सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

सुदर्शन को मंच बना सब इंस्पेक्टर बनने का सपना पाले युवाओं ने की CM से हाथ जोड़कर की मन की बात, बोले युवा-'हमें करनी है मातृभूमि की सेवा,भर्ती जल्दी कराइये'

रविवार को सुदर्शन न्यूज़ ने दोपहर 3 PM स्पेशल बुलेटिन में 'बेरोजगारों से छल!' नामक एक कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें सब इंस्पेक्टर परीक्षा भर्ती में अभ्यर्थी रहने वाले कई युवा शामिल हुए।

योगेश मिश्रा, छत्तीसगढ़
  • Jul 5 2020 11:08PM
छत्तीसगढ़ में युवाओं के मद्देनजर सब इंस्पेक्टर, शिक्षक पात्रता, असिस्टेंट प्रोफेसर, बेरोजगार प्रेरक समेत युवाओं से सम्बंधित कई परीक्षा लंबित हैं। ऐसे में हाल ही में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री निवास के गेट में हरदेव सिन्हा नामक युवक के द्वारा आत्मदाह करने की घटना के बाद बाकी युवाओं के मन में भी पीड़ा देखी जा रही है। उनकी पीड़ा को भाँपकर उन्हें उनकी बात रखने का मौका दिया, एक बार फिर सुदर्शन न्यूज़ ने। रविवार को सुदर्शन न्यूज़ ने दोपहर 3 PM स्पेशल बुलेटिन में 'बेरोजगारों से छल!' नामक एक कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें सब इंस्पेक्टर परीक्षा भर्ती में अभ्यर्थी रहने वाले कई युवा शामिल हुए।
इस दौरान उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ सरकार से अपील की कि उनके मनोबल को ऊंचा करने सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा की प्रक्रियाओं को जल्द से जल्द पूरा किया जाए, ताकि वह अपने राज्य के सुरक्षा में तैनात हो सकें और नक्सलियों को खत्म कर सकें।
इस दौरान सुदर्शन न्यूज़ के इस लाइव शो में काफी तादाद में सब इंस्पेक्टर भर्ती के अभ्यर्थियों ने हिस्सा लिया। साथ ही उन्होंने सुदर्शन न्यूज़ का धन्यवाद ज्ञापित किया और कहा कि वह सुदर्शन न्यूज़ को अपनी आवाज बुलंद करने के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हैं।
इस लाइव शो में कांग्रेस पार्टी की तरफ से पक्ष रखने धनंजय सिंह ठाकुर, भारतीय जनता पार्टी से भाजपा के वरिष्ठ नेता सच्चिदानंद उपासने, साथ ही रायगढ़ से एसआई अभ्यर्थी प्रशांत इजारदार भी लाइव शो का हिस्सा बने। 
इस दौरान अपनी बात को नेशनल टेलीविजन पर आता देख युवाओं का उत्साह बढ़ गया और उन्होंने सरकार से अपील की कि उनकी पीड़ा को समझते हुए सरकार सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा के प्रक्रियाओं को पूर्ण करें।
हमारे इस खबर से पूरे प्रदेश के युवाओं में उत्साह का संचार देखा जा रहा है। युवाओं को लग रहा है कि उनकी आवाज, उनका दर्द, उनकी पीड़ा को सुदर्शन न्यूज़ जस का तस पूरे देश के सामने परोसा है और इसीलिए लोग सुदर्शन न्यूज़ को सोशल मीडिया आदि प्लेटफार्म के जरिये धन्यवाद कह रहे हैं और कह रहे हैं कि सुदर्शन न्यूज़ ही बेहतरीन पत्रकारिता का उदाहरण है और सच को जस का तस लाने की हिम्मत कर सकता है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार