सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

विकास की रह पर योगी सरकार,पर्यटन को मिलेगी तेज रफ्तार।

पूर्वांचल के विकास में धार्मिक, आध्यात्मिक, सांस्कृतिक पर्यटन की होगी महती भूमिका यूपी आने वाले 65 प्रतिशत पर्यटकों की पसंद काशी व कुशीनगर बुद्धिस्‍ट पर्यटन को केन्‍द्र में रख होगा।पूर्वांचल के पर्यटन का विकास पूर्वांचल विकास परिषद पर्यटन समिति ने पूर्वांचल पर्यटन को लेकर सीएम को दिया गया है प्रस्‍तुतीकरण।

रजत. के. मिश्र, Twitter- rajatkmishra1
  • Dec 29 2020 11:21AM

इनपुट-अखिल तिवारी

योगी सरकार लगातार यूपी के विकास पर जोर देर रही और पूर्वांचल के विकास के लिए विशेष रुप से सरकार काम कर रही है, सांस्कृतिक पर्यटन के साथ साथ आध्यत्मिक और धार्मिक क्षेत्रों के भी विशेष महत्व है।

अगर वहीं बात पर्यटकों करें तो लगभग एक आंकड़े के अनुसार 65 प्रतिशत पर्यटक पूर्वांचल के 2 शहर काशी और कुशीनगर को पसंद करते हैं,दोनों शहर धार्मिक और आध्यत्मिक  दृष्टि से भी विशेष है। इसके साथ ही अयोध्या का तो विशेष महत्व है जो कि प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि है,साथ ही बाबा गोरखनाथ की तपोभूमि गोरखपुर भी विशेष है।इन विशेष बिंदुओं के मद्देनजर पर्यटन विभाग इनको और विकसति करने के लिए योजनाबद्ध ढंग से कार्य कर रहा है। 

पूर्वांचल विकास परिषद की पर्यटन समिति के सदस्‍य व डॉ राम मनोहर लोहिय के पूर्व कुलपति ने एक विशेष प्रस्ताव मुख्यमंत्री जी समक्ष रखा था।
उन्होंने बताया पूर्वांचल अध्यात्म और संस्कृति दृष्टि से विशेष है, लेकिन शिक्षा और रोजगार के अभाव था, लेकिन वर्तमान सरकार ने यहाँ पर अधिक जोर दिया है।

बुद्धिस्‍ट पर्यटन के साथ विकास की भूमिका


सीएम के समक्ष प्रस्तुतिकरण में सुझाव दिया गया कि पूर्वांचल का विकास बुद्धिस्‍ट पर्यटन को केन्‍द्र में रखकर करने की जरूरत है। अगर बात पूर्वांचल कि की जाए तो सांस्कृतिक सम्बन्ध बिहार से है लेकिन दोनों प्रदेश को किसी एक आयोजन में अब तक नही शामिल किया जा सका,कुशी और बोधयज्ञा कि दूरी अधिक है इसके सीधे रेलवे लिंक होना चाहिए।ये भी स्पष्ट है कि योगी सरकार एवं पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी लगातार उत्तर प्रदेश में पर्यटन को मजबूती देने का प्रयास कर रहे हैं।

पूर्वांचल को उम्मीदों की उड़ान

इस बात से इंकार नही किया जा सकता कि पूर्वांचल पर्यटन सांस्कृतिक और आध्यत्मिक नजरिये बहुत खास है लेकिन पिछली सरकार राजनैतिक उपेक्षाओं के कारण पूर्वांचल का उतना विकास नही हुआ जितना होना चाहिए था।लेकिन वर्तमान सरकार निरन्तर प्रयास कर रही है पूर्वांचल को विकसति करके पर्यटन का केन्द्र बनाया जाए।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार