सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

शेख राशिद ने भगवान श्री राम मंदिर के लिए उगला ज़हर

अयोध्या मे श्री राम मंदिर को लेकर पाकिस्तानी मंत्री शेख राशिद ने फिर जहर उगला

Sudarshan News
  • Aug 2 2020 8:21PM

पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद अहमद के आए दिन वह अपने विवादित हास्यपद बयानों के लिए जाने जाते है।वही  एक बार फिर पाकिस्तानी मंत्री ने भारत में 5 अगस्त को होने वाले श्री राम मंदिर निर्माण को लेकर गलत बोला है।उन्होंने राम मंदिर निर्माण को लेकर दुनियाभर मुसलमानों से अपील की करते हुए कहा कि   इंडिया में 5 अगस्त को अयोध्या में मुसलमानों की बाबरी मस्जिद की जगह राम मंदिर बनाया जा रहा है।जिसमे वह सारे मुसलमानों को एक संदेश दे रहे है कि हमारे अल्लाह का घर उजाड़ा जा रहा है और अब दुनिया के मुसलमानों को एक होना है।

शेख राशिद यह भी बोले कि उन्होंने भारत को लेकर यह कहा कि आज हिंदुस्तान राफेल विमानों हैमर मिसाइल की बात कर रहा है और वही पाकिस्तान के वैज्ञानिकों ने वो काम किया है जिसमे नेस्तेनाबूद कर दिये जाओगे ।और ना तुम्हारी घास उगेगी और ना चिड़ियां चहकेंगी और ना मंदिरों में घंटियां बजेंगी।

हालांकि पाकिस्तानी की जनता ने इस बात पर शेख राशिद की खिंचाई भी की और  पाकिस्तानी की  आवाम ने शेख राशिद से ईद उल जुहा के मौके पर ऐसी बातें करने पर नाराजगी जताई है । और आपको बता दें कि यह पहली बार  नहीं है जब पाकिस्तानी मंत्री ने भारत के खिलाफ विवादस्पद बयान दिया हो।  इसक पहले शेख राशिद ने एक बार फिर से भारत को परमाणु हथियार से हमले की धमकी दी थी। ओर यही भी कहा था कि इस्लामाबाद के पास सामरिक परमाणु हथियार हैं जो भारत को बडा नुकसान पहुंचा सकता है।

राशिद ने यह भी  कहा था कि, 'पाकिस्तान  के पास 125-250 ग्राम के परमाणु बम (सामरिक परमाणु हथियार) हैं ।  जो भारत के किसी भी हिस्से को निशाना बनाने में सक्षम है।आपको बता दें कि पाकिस्तानी मंत्री शेख राशिद का यह बयान उस समय आया था जब भारतीय  रक्षामंत्री राजनाथ सिंह जी ने परमाणु हथियारों को लेकर एक टिप्पणी की थी।जिसमे यह कहा गया था कि  उप-महाद्वीप में बदलती परिस्थितियों के मद्देनजर भारत पहले परमाणु हथियार उपयोग नहीं करने की नीति की समीक्षा करने पर विचार कर सकता है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें