सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

प्रवासी मजदूरों पर आखिर सियासत क्यों , बीजेपी ने कांग्रेस और टीएमसी पर लगाया आरोप

लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों पर आखिर कब तक होगी सियासत

Namit Tyagi
  • May 15 2020 4:06PM


लॉकडाउन में सबसे ज्यादा मुसीबतों का पहाड़ प्रवासी मजदूरों पर टूटा है व्यापार और उद्योग सेक्टर पूरी तरह से बंद पड़ा हुआ है ऐसे  में मजदूर मजबूर  होकर अपने घरों की तरफ जा रहे है लेकिन कुछ राज्य सरकारे और कुछ राजनेता इन बेबस मजदूरों पर भी सियासत की रोटियां सेक रहे है बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस और टीएमसी पर प्रवासी मजदूरों की वापसी को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया है पात्रा ने कहा कि जहां से मजदूरों के लिए ट्रेनें चलनी है वो राज्य अनुमति दे रहे है लेकिम जहाँ ट्रेन पहुँचनी है वो राज्य इजाजत नही दे रहे

 आखिर घर क्यों नही जा पा रहे मजदूर...

 संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस शासित राज्य और टीएमसी शासित राज्य प्रवासी मजदूरों पर राजनीति कर रहे है पश्चिम बंगाल, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड की बात करे तो सबसे ज्यादा मुसीबतों का सामना यहाँ रहने वाले मजदूरों को करना पड़ रहा है जिन राज्यो से मजदूरों को जाना है वहाँ की सरकार ने तो सारी व्यवस्था कर दी है लेकिन इन मजदूरों के ग्रह राज्य सरकारे ट्रेनों की अनुमति नही दे रहे है 

 केंद्र सरकार ने मजदूरों की घर वापसी के लिए क्या किया...

संबित पात्रा ने कहा कि केंद्र सरकार ने प्रवासी मजदूरों के लिए 1200 ट्रेनों का इंतज़ाम किया  साथ ही उन्होंने कहा कि रोजाना 300 ट्रेनें श्रमिको के लिए चल सकती है और लगभग 5 लाख मजदूर प्रतिदिन अपने घर पहुँच सकते है एक आंकड़े के मुताबिक देश मे करीब 20 लाख ऐसे मजदूर है जो अपने  ग्रह राज्य जाना चाहते है 

 

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार