सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

मुंबई में बरपा बरसात का कहर , राज्य सरकार और BMC प्रशासन निद्रासन में...

बरसात में जलभराव की समस्या से निपटने के लिए क्या BMC की सारी व्यवस्था योजना सिर्फ कागज पर ही होती है ? करोड़ो रूपए के फंड जब घोषित होते हैं तो स्थिति ज्यों की त्यों क्यों रहती है ?

Pranjal Mishra
  • Jul 15 2020 8:16PM
मुंबई में बीते दो दिनों से मूसलाधार बारिश का कहर छाया हुआ है. मुम्बई के कई इलाकों कुर्ला, सायन, घाटकोपर,किंग्ज सर्कल, हिंदमाता और दादर में जलभराव हुआ है. परिणामस्वरूप कोरोना की इस महामारी जैसी परिस्थिती में अत्यावश्यक सेवा में नौकरी करनेवाले लोगों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. चिंता तो यह कल्पना करते हुए होती है यदि किसी गंभीर मरीज को अस्पताल ले जाना हो तो 40 मिनट की दूरी वाले अस्पताल तक पहुंचने में जलजमाव के कारण घंटे लग सकते हैं. 


वहीं भाजपा ने शिवसेना पर सीधा निशाना साधा है और पिछले 30 वर्षों में BMC पर सत्ता होते हुए भी नाकामी का कारण पूछा है. भाजपा प्रवक्ता राम कदम ने पूछा है कि, जब BMC जलभराव से निपटने के लिए करोड़ो रुपए फंड घोषित करती है तो इसका प्रभाव क्यों नहीं दिखता ? शिवसेना 30 वर्ष से महानगरपालिका में सत्ता पर है इसका जवाब शिवसेना को देना चाहिए. 

अब सवाल यह होता है कि

क्या BMC की सारी व्यवस्था योजना सिर्फ कागज पर ही होती है ? 

करोड़ो रूपए के फंड जब घोषित होते हैं तो स्थिति ज्यों की त्यों क्यों रहती है ?

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

1 Comments

यह स्थति हर वर्ष रहती है ।

  • Guest
  • Jul 15 2020 8:34:18:933PM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार