सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और झारखंड के बाद यूपी कि योगी सरकार कि तैयारी, 60 नहीं 62 पर मिलेगा कर्मचारीयों को रिटायरमेंट

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और झारखंड के बाद यूपी कि योगी सरकार कि तैयारी, 60 नहीं 62 पर मिलेगा कर्मचारीयों को रिटायरमेंट

Gaurav Mishra
  • Jun 10 2021 9:49PM
मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और झारखंड के बाद यूपी कि योगी सरकार कि तैयारी, 60 नहीं 62 पर मिलेगा कर्मचारीयों को रिटायरमेंट मध्यप्रदेश छत्तीसगढ़ व झारखंड कि तत्कालीन भाजपा सरकार ने राज्य कर्मचारीयों की सेनानिवृत होने की समय सीमा 60 वर्ष से बढ़ाकर 62 वर्ष कर दी है जिस वजह से वहाँ के मौजूदा कर्मचारी व उनके हित मे कार्य कर रहे संगठन में खुशी की लहर दौड़ गयी है. वहीं दूसरी ओर इस कदम के बाद उत्तरप्रदेश में जहाँ लंबे समय से राज्य कर्मचारी इस माँग को उठाते रहे हैं उनको अपनी माँगो को लेकर एक आधार मिला गया है. ऐसे में अब कर्मचारी और उससे जुड़े संगठनों ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने अपनी माँगो को रखना शुरू कर दिया है. इस मुद्दे को लेकर संगठनों की तरफ से कई बार उनके द्वारा बृहद आंदोलन और धरना प्रदर्शन किए जाते रहे हैं. आपको बता दें कि राज्य के कर्मचारियों कि इस मांग को व्यापक समर्थन मिल रहा है. केन्द्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने भी सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर उत्तरप्रदेश के लगभग 16 लाख कर्मचारियों के कार्यकाल को 60 वर्ष से बढ़ाकर 62 वर्ष करने का माँग कि है. मीडिया को मिली जानकारी के अनुसार उत्तरप्रदेश के नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग ने राज्य सरकार के कर्मचारीयों को रीटायरमेंट कि आयु 2 वर्ष बढ़ाने का प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजा है. विभाग द्वारा भेजे गए इस प्रस्ताव पर मंथन चल रहा है साथ ही कयास लगाए जा रहें हैं कि इस मामले में सरकार कोई फैसला ले सकती है. कहा ये भी जा रहा है कि इस मुद्दे को लेकर प्रदेश के कई सांसदों ने भी सीएम योगी को पत्र लिखा है. माना जा रहा है कि अगर सरकार द्वारा आगामी विधानसभा चुनाव से पहले ये फैसला सुना दिया गया तो इसका बड़ा फायदा मिल सकता है. सरकार के इस फैसले से राज्य का वित्तीय राजस्व भी बढ़ेगा. विशेषज्ञों का मानना है कि रिटायरमेंट के बाद कर्मचारियों को दी जाने वाली भारी भरकम राशि से सरकार को 2 वर्ष के लिए राहत मिलेगी और उस बचत राशि से सरकार प्रदेश के विकास योजनाओं को तेजी से आगे बढ़ा सकेगी. ऐसे में ये तय माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चुनाव से पहले कर्मचारीयों व महसंगठन द्वारा रिटायरमेंट समय सीमा को 60 वर्ष से 2 वर्ष बढ़ाकर 62 वर्ष करने का फैसला लेते हुए सूबे के कर्मचारियों को बड़ी सौगात दे सकते हैं!

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार