सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

स्टैंडर्ड स्लॉटर हॉउस ने छीना गरीबो के मुँह का निवाला, मजदूरों का गला रेत कर अपनी कमाई बढ़ा रही है उन्नाव की फैक्ट्रियां, जिला प्रशासन के मुँह पर लगा ताला

गरीब मजदूरों की लाश की बुनियाद पर फैक्ट्री चलाना चाहते है उन्नाव के फैक्ट्री मालिक, लॉक डाउन में रोजगार छीनने पर लगी है कई फैक्ट्रियां, स्टैंडर्ड स्लॉटर हॉउस के बाहर महिलाओं ने दिया धरना

रजत मिश्र, उत्तर प्रदेश
  • May 15 2020 2:31PM
 (इनपुट - अभय सिंह, उन्नाव)

 उन्नाव में आज स्टैण्डर्ड स्लॉटर हाउस के फैक्ट्री प्रबंधन ने तुगलकी फरमान जारी कर तमाम मजदूरों को उनका वेतन न देकर भूखे मरने के लिये छोड़ दिया। मजदूरों को फैक्ट्री से निकालने की धमकी तक दे दी। फैक्ट्री प्रबंधन के इस तुगलकी फरमान के बाद यहां काम करने वाले सैकड़ो मजदूरों ने फैक्ट्री के गेट पर ही हंगामा शुरू कर दिया उसके बाद सभी मजदूर उन्नाव जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन करने लगे। जिसके बाद मौके पर पहुंची उन्नाव पुलिस ने लोगो को समझाने का प्रयास किया परंतु मजदूर अपनी मांगों को लेकर अड़े रहे।
     
उन्नाव में लगभग सभी फैक्टरियां गरीब मज़दूरों का गला रेतने  के लिए बैठी हुई हैं, फैक्ट्रियों के मजदूर दर-दर की ठोकरें खाने के लिए मजबूर हो रहे हैं। पहले से विवादों में रहे स्टैंडर्ड हॉउस के एक मुग़लिया फरमान ने मजदूरों को और लाचार बना दिया। फैक्ट्री प्रबंधन ने सभी मजदूरों को फैक्ट्री से निकालने का आदेश दे दिया और वेतन और खाना देने से इनकार कर दिया, जिससे मजदूर और उनके बच्चे भूख से मरने को मजबूर हो रहे हैं। नाराज मजदूरो ने घंटो तक फैक्ट्री में जमकर हंगामा किया, लेकिन किसी ने उनकी एक न सुनी, उसके बाद करीब 50 महिला मजदूर अपनी बात को रखने के लिए उन्नाव जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर पहुंची जहां उन्होंने प्रदर्शन शुरू कर दिया, मजदूरों का कहना है कि वे पिछले कई वर्षों से फैक्ट्री में काम कर रहे है और अब उन्हें वेतन और खाना नही मिलेगा तो वो अपना और अपने बच्चों का जीवन यापन कैसे करेंगी। जिसको लेकर आज मजदूर महिलाओं ने जिलाधिकारी से मुलाकात की और फैक्ट्री द्वारा वेतन भुगतान करने एवं खाना उपलब्ध कराने की बात कही, जिस पर जिलाधिकारी उन्नाव ने उन्हें आश्वासन देकर वापस भेज दिया।

वही इस पूरे मामले में फैक्ट्री प्रबंधन का कोई भी व्यक्ति कुछ भी बोलने को तैयार नही है। मजदूरों का कहना है कि जब तक उन्हें उनका हक नही दिया जाता, उनका धरना प्रदर्शन जारी रहेगा।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार