सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल बोले आत्मनिर्भर बजट में किसानों के लिए बहुत सारी योजनाएं हैं

देश का विकास किसानों के विकास के बिना संभव नहीं,किसानों से कोई ठोस प्रस्ताव नहीं मिला-पीयूष गोयल

Namit Tyagi , twitter @NamitTyagi1
  • Feb 7 2021 8:29PM
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने आज स्पष्ट रूप से कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार किसानों और किसान मुद्दों के प्रति पूर्णतः संवेदनशील है। सरकार को किसानों से कृषि कानूनों पर अब तक न तो कोई ठोस प्रस्ताव मिला है और ना ही किसान नेता यह स्पष्ट कर पाए हैं कि यह नया कृषि कानून किस तरह से उनके खिलाफ है। प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता, प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल और मीडिया प्रमुख नवीन कुमार भी उपस्थित थे।

पीयूष गोयल ने कहा कि कोई भी कानून देशभर के लिए बनाया जाता है। किसी एक वर्ग के विरोध के कारण उससे होने वाले लाभ से किसानों के बड़े वर्ग को वंचित नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों के हित के लिए ही कृषि कानून बनाया है। विपक्ष किसानों के एक वर्ग को भ्रमित करने में सफल रहा है, लेकिन सरकार उनसे भी बातचीत कर रही है। सरकार की ओर से इन किसानों की तारीख पर तारीख नहीं, बल्कि प्रस्ताव पर प्रस्ताव दिए जा रहे हैं।

पीयूष गोयल ने कहा कि वर्ष 2021-22 के आत्मनिर्भर बजट में भी किसानों के लिए बहुत सारी योजनाएं रखी गई हैं। देश का विकास किसानों के विकास के बिना संभव नहीं है। उन्होंने गत 26 मार्च को लाल किला पर हुए राष्ट्रीय झंडे के अपमान की निंदा करते हुए कहा कि अब हमें आगे बढ़कर समस्याओं के निवारण का प्रयास करना चाहिए। एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री गोयल ने कहा कि पश्चिम बंगाल में इस बार सत प्रतिशत परिवर्तन आएगा और राज्य में भाजपा सरकार बनने में किसी को संदेह नहीं होना चाहिए।


सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार