सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

दुनिया लड़ रही कोरोना से से. पर कुछ गद्दार लड़ रहे पुलिस और सेना से. कश्मीर में ढेर हुए आसिफ और आशिक

भारत की पुलिस के साथ सेना का भी अद्भुत पराक्रम जारी.

Sudarshan News
  • Apr 17 2020 7:50PM
ये वो समय है जब देश ही नही बल्कि दुनिया भी एकजुट हो कर वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना के खिलाफ जंग छेड़े है. मानवता को बचाने की इस लड़ाई में हर देश एक दूसरे की बढ़ चढ़ कर मदद कर रहा है और ये बीमारी तेजी से आग की तरह फ़ैल रही है. ऐसे में हर देश के हर नागरिक की ये जिम्मेदारी बनती है कि वो इस महामारी के खिलाफ वैश्विक जंग में एक सिपाही के रूप में कार्य करें और न सिर्फ सरकार के नियमो का पालन करें बल्कि कोरोना फाइटर के नाम से विख्यात पुलिसकर्मियों और डाक्टरों की अपने तरफ से बढ़ चढ़ कर मदद भी करें. तमाम सामाजिक संगठन इस कार्य के लिए सामने भी आये हैं और उन्होंने गरीबो के भोजन आदि की व्यवस्था भी की पर एक सोच , एक मानसिकता और एक विचारधारा ऐसी है जो सीधे सीधे खिलाफ जैसी लग रही है उन कोरोना फाइटर के खिलाफ जो देश और दुनिया को बचा रहे हैं..वो कोरोना से नहीं बल्कि उनसे लड़ रहे हैं जो कोरोना से लड़ रहे.

उत्तर प्रदेश , बिहार , दिल्ली . राजस्थान . मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में जो कुछ भी पुलिसकर्मियों के साथ हुआ उसको सब जानते हैं लेकिन कश्मीर में सेना के खिलाफ भी जंग जारी है और ऐसे विधर्मी कहे जा सकने आतंकियों का सफाया सेना बखूबी कर भी रही है. कश्मीर से एक और शुभ कहा जा सकने वाला समाचार मिला है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में आज तड़के हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने दो आतंकवादियों मार गिराया है. मारे गये दोनों आतंकवारियों के हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े होने की बात कही जा रही है.. जानकारी के अनुसार सुरक्षाबलों को कश्मीर संभाग के शोपियां में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. जिसके बाद सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम ने क्षेत्र की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया था. इस दौरान खुद को सुरक्षाबलों से घिरा देख आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग करनी शुरू कर दी थी. जिसके जवाब में सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग शुरू कर दी.

यह सच है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन लागू है। वहीं कश्मीर में आतंकवादी भी सक्रिय हैं। शुक्रवार सुबह कश्मीर में शोपियां के डियारू इलाके में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई तो तत्‍काल एक आतंकी मारा गया। दूसरे को कुछ ही देर बाद मार गिराया गया. आज मारे गए दो आतंकियों के साथ ही जम्‍मू कश्‍मीर में इस महीने अभी तक मरने वाले आतंकियों की संख्‍या 16 हो गइ है जबकि वर्ष 2020 में मारे गए आतंकियों का आंकड़ा भी 57 को पार कर गया है।है। पिछले साल पहले चार महीनों में 72 आतं‍की मारे गए थे तो पूरे साल में 163 को ढेर किया गया था।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार