सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

इस बार लव जिहाद का शिकार बनी एक दलित लड़की जिसे घर से उठाने पहुच गया सुहैल

कहीं नही दिखी तथाकथित एकता जिसका पीटा जा रहा है ढोल.

Rahul Pandey
  • Aug 4 2020 5:17PM
जिस सच से बार-बार वामपंथी वर्ग और तथाकथित सेकुलर वर्ग मुंह को फेर कर जान कर भी अंजान बने हुए हैं वह सच बार-बार किसी न किसी रूप में सामने आ ही जा रहा है। दुनिया में सिर्फ उत्तर प्रदेश को जिस प्रकार की राजनीति का गढ़ बनाया गया है इसका असली स्वरूप आए दिन कहीं कहीं से निकल कर आ ही जाता है। कुछ दिन पहले जौनपुर उसके बाद कई अन्य जगहों से होता हुआ वह सच अब उत्तर प्रदेश के ही जिला मेरठ में मुंह फाड़ कर खड़ा हुआ है। यह वह मेरठ है जो भीम आर्मी नाम के समूह के प्रमुख की कर्मभूमि से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

ध्यान देने योग्य कि सुदर्शन न्यूज़ ने अपने कई कार्यक्रमों के माध्यम से बार-बार लव जिहाद नाम की एक सामाजिक साजिश की तरफ ध्यान आकृष्ट कराया है। तमाम विरोध के बाद आए दिन कहीं नहीं जैसा प्रमाण जरूर आ जाता है जो सुदर्शन न्यूज़ की एक-एक दावे पर मुहर लगाता है। इस बार वह मोहर लगी है उत्तर प्रदेश के जिला मेरठ में जहां एक दलित लड़की को सोहेल नाम के एक लव जिहादी में बनाया है अपनी उस साजिश का शिकार जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फैली हुई है।

थाना परतापुर क्षेत्र के भूडबराल में लव जेहाद में हुए मां-बेटी के कत्ल का सनसनीखेज मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि एक और मामला लव जेहाद का जिले में आया है। जिसमें विशेष संप्रदाय के युवक ने नाम बदलकर युवती को अपने प्रेमजाल में फंसाया। उसके बाद साथियों के साथ जबरन घर से उठाकर निकाह करने का प्रयास किया। परिजनों और ग्रामीणों ने विरोध कर युवती को आरोपी के चंगुल से छुड़ा लिया। युवती के परिजनों ने थाने में तहरीर दी लेकिन पुलिस ने अभी तक मामला दर्ज नहीं किया है। पुलिस ने आरोपी को थाने में बैठा रखा है।


भावनपुर के लाडपुरा गांव से 31 जुलाई को विशेष संप्रदाय का युवक अपने साथियों के साथ दलित युवती को उसके घर से उठा लाया। जानकारी दलित समाज के लोगों को हुई तो रोष फैल गया। युवती के परिजनों और दलित समाज के लोगों ने किसी तरह से आरोपी के चंगुल से युवती को छुड़ा लिया। उसके बाद युवती के पिता की तरफ से भावनपुर थाने में तहरीर दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपित सुहेल को पकड़कर थाने ले आई। तीन दिनों से सुहेल थाने की हवालात में बैठा है। पुलिस भी सुहेल के परिवार के साथ मिलकर युवती के परिवार पर समझौते के लिए दबाव बना रही है। सोमवार को युवती के परिजनों ने हंगामा किया तो तब मुकदमा दर्ज किया गया।

युवती के परिजनों ने बताया कि आरोपित सुहेल पिछले छह माह से उनकी बेटी से नाम बदलकर मोबाइल पर इंटरनेट कॉल से बातचीत करता था। उसने युवती को अपने प्रेमजाल में फंसा लिया। युवती को सुहेल की असलियत के बारे में पता चला तो उन्होंने थाने में तहरीर दी। परिवार के लोगों का कहना है कि पुलिस ने दबाव बनाकर समझौता करा दिया। उसके बाद 31 जुलाई को फिर से सुहेल अपने कुछ साथियों के साथ हमारे घर पर पहुंचा। जबरन हमारी बेटी से निकाह करने की जिद करने लगा। आरोप यहां तक है कि युवती को धर्म परिवर्तन तक कराने का घमकी दे रहा था। परिवार के लोगों ने आरोपितों को विरोध कर युवती को बचा लिया। इंस्पेक्टर रघुराज का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। युवक को जेल भेजा जा रहा है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार