सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

हाथियों पर बारूद का परीक्षण दक्षिण भारत में बार - बार क्यों ? पहले केरल और अब तमिलनाडु

केरल में विस्फोटक खिलाने के बाद अब तमिलनाडु में सिरफिरे ने हाथी पर फेंका जलता हुआ टायर, झुलसने से मौत

Shiv Kumar
  • Jan 23 2021 3:49PM
वामपंथ के शिकार केरल में एक गर्भवती हथिनी को किसी सिरफिरे ने विस्फोटक खिला दिया था जिसके बाद उसकी दर्दनाक मौत की खबर से देशभर में गुस्सा था। अब ऐसी ही एक ह्रदय विदारक घटना तमिलनाडु से सामने आई है जहां एक इंसान ने जानवर के साथ वहसी दरिंदे से भी ज्यादा खौफनाक सुलूक किया है।  

दरअसल तमिलनाडु के नीलगिरी में किसी शख्स ने जलते हुए टायर को हाथी के ऊपर फेंक दिया। इस जलते टायर की वजह से हाथी बुरी तरह घायल हो गया और कुछ दिन बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। हाथी के कानों पर जलते हुए टायर का वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर तेजी से वायरल हो रहा है।

इस दर्दनाक वीडियों में हाथी के कानों पर टायर जल रहा है, जिसके चलते हाथी दर्द से इधर-उधर भागने लगाता है,  इस दौरान उसके कान के आसपास का हिस्सा बुरी तरह झुलस गया। दरअसल वीडियो में एक व्यक्ति इमारत से जलती हुई चीज फेंकता हुआ दिखाई दिया, जिससे हाथी का कान जख्मी हो गया. बाद में हाथी को एक बांध के पास लेटे हुए पाया गया। पशु चिकित्सकों ने हाथी के उपचार का प्रयास किया लेकिन बचा नहीं सके। जांच में पाया गया कि कान जलने से हुए घाव के बजाय हाथी की मौत अत्याधिक मात्रा में खून बह जाने एवं अन्य कारणों से हुई।

हाथी की मौत के बाद उसके अंतिम विदाई का भी एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एक वन रेंजर ट्रक में पड़े हाथी की सूंड को पकड़कर रो रहा है। वन रेंजर के इस इमोशनल वीडियो ने सोशल मीडिया पर हर किसी को भावुक कर दिया है।

इस सब घटना के बाद सवाल उठता है कि आखिर जानवर कौन है ? देश में जहां एक वर्ग में जानवरों की पूजा की जाती है तो वहीं ऐसी घटना मनुष्य की मानवता पर ही सवाल खड़ा करती है। ऐसी घटना से नज़र आता है कि आज जानवरो को मनुष्यों से खतरा है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार