सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

धर्मांतरण के विरुद्ध और जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग को लेकर यूनाइटेड हिंदू फ्रंट का  संकेतिक धरना

जय भगवान गोयल बोले देश मे जल्द बने जनसंख्या नियंत्रण कानून

Namit Tyagi
  • Jul 11 2021 8:42PM
यूनाइटेड हिंदू फ्रंट ने देश भर में निरंतर हो रहे धर्मांतरण के विरुद्ध एवं जनसंख्या नियंत्रण कानून पूरे देश में लागू करने की मांग को लेकर आज विशाल संकेतिक धरना का आयोजन किया।इस अवसर पर फ्रंट के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष एवं वरिष्ठ भाजपा नेता श्री जय भगवान गोयल सहित अनेक हिंदू नेता उपस्थित थे। धरने का आयोजन फ्रंट के शाहदरा विधानसभा प्रभारी श्री राजेश पुरी की ओर से किया गया।
श्री गोयल ने इस मौके पर कहा कि निरंतर बढ़ रही जनसंख्या कई जीवन उपयोगी वस्तुओं की महंगाई और बेरोजगारी के लिए जिम्मेदार है। महंगाई का रोना रोने वाले जनसंख्या कम करने के बारे एक शब्द नहीं बोलते क्योंकि उन्हें पता है कि एक संप्रदाय विशेष की जनसंख्या को बढ़ाने में लगा है और वह उनका खुद का ’वोट बैंक ’ है। उन्होंने कहा कि आज देश भर में हिंदू के भविष्य के बारे चिंता व्यक्त की जा रही है। जन- जन के मन में हिंदुओं के निरंतर हो रहे धर्म परिवर्तन और और देश में बढ़ती जनसंख्या को देखते हुए भारतवर्ष के शीघ्र ही मुस्लिम राष्ट्र में तब्दील हो जाने  बारे आशंका व्यक्त की जा रही है। यह आशंका निर्मूल नहीं क्योंकि वोटो के भूखे गैर भाजपा दलों को राष्ट्रीय की तनिक भी चिंता नहीं है।श्री गोयल ने पूरे देश में शीघ्रतिशीघ्र जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करने की मांग दोहराई तथा कहा कि इसमें देरी राष्ट्रीय हित में नहीं होगी। धरना स्थल पर कोरोना  से बचाव का पालन करते हुए उपस्थित महानुभावों में सर्व श्री श्रीकांत यादव, राहुल मनचंदा, शिवकुमार शर्मा, अवध कुमार, रोमी चौहान, शंकरलाल अग्रवाल, दीपक गुप्ता, राजकुमार गुप्ता, हेमंत खुराना, नीरज आदि पदाधिकारी अपने कार्यकर्ताओं के साथ उपस्थित थे।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार