सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

VVIP प्रोटोकाल उल्लंघन मामले पर एसपीजी सख्त,पूछा-"किसकी स्वीकृति से उतरा सीएम का हेलीकॉप्टर"

पत्र जारी कर वीवीआइपी के प्रोटोकाल का हर हाल में अक्षरश: पालन करने का सख्त निर्देश दिया गया है।

रजत के.मिश्र, Twitter - rajatkmishra1
  • Jan 22 2022 10:33AM

इनपुट-श्वेता सिंह,लखनऊ

 
उत्तर प्रदेश के सभी पुलिस आयुक्त, जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को पत्र जारी कर वीवीआइपी के प्रोटोकाल का हर हाल में अक्षरश: पालन करने का सख्त निर्देश दिया गया है।
 
दरअसल प्रयागराज में 21 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आगमन के एक घंटे पहले परेड मैदान के हेलीपैड पर पीएम के लिए निर्धारित स्थल पर मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर उतरने के घटनाक्रम को एसपीजी ने बेहद संजीदगी से लिया है और इस घटना को वीवीआइपी प्रोटोकाल का उल्लंघन माना है। इसी वजह से प्रोटोकाल के पालन का निर्देश दिया गया है।
 
ये था पूरा मामला-
 
बता दें प्रयागराज में 21 दिसंबर 2021 को महिला सशक्तीकरण सम्मेलन का आयोजन किया गया था। इसमें प्रदेश भर के स्वयं सहायता समूह व अन्य योजनाओं से जुड़ी महिला सदस्यों की भीड़ इकट्ठा हुई थी। इस कार्यक्रम में पीएम मोदी भी शामिल हुए थे। प्रधानमंत्री के आगमन के मद्देनजर परेड ग्राउंड में एक तरफ पीएम के हेलीकाप्टर काफिला के लिए तीन हेलीपैड बनाए गए थे जबकि एक तरफ दो हेलीकाप्टर के लिए हेलीपैड तैयार किया था। जिस जगह दो हेलीकाप्टर के लैंडिंग की व्यवस्था की गई थी, वहां मुख्यमंत्री योगी का हेलीकाप्टर उतरना था।
 
इसी दौरान मुख्यमंत्री योगी आयोजन स्थल का निरीक्षण करने पहुंचे। सीएम का हेलीकाप्टर उस हेलीपैड पर उतरवा दिया गया जहां पीएम का हेलीकाप्टर उतरना था। हालांकि कुछ ही देर में सीएम आयोजन स्थल का निरीक्षण कर बमरौली एयरपोर्ट चले गए थे जहां से पीएम की आगवानी कर उनके साथ वापस आयोजन स्थल पहुंचे थे। पीएम के लिए निर्धारित स्थल पर सीएम का हेलीकाप्टर एक घंटे पूर्व किन परिस्थितियों में और किसकी स्वीकृति से उतरवाया गया था, एसपीजी ने इसे प्रोटोकाल का उल्लंघन मानते हुए पत्र लिखकर जवाब मांगा था, इसका संतोषजनक जवाब एसपीजी को नहीं दिया गया। इस घटनाक्रम के आलोक में अपर पुलिस महानिदेशक सुरक्षा विनोद कुमार सिंह ने प्रदेश भर के आला अधिकारियों को वीवीआइपी प्रोटोकाल की सुनिश्चितता संबंधी पत्र लिखा है।

कोई कार्रवाई नहीं-
 
इधर प्रयागराज कमिश्नर ने बताया कि 21 दिसंबर के घटनाक्रम को लेकर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई है। हां, यह जरूर है कि एहतियात से संबंधित एक पत्र प्रशासन को आया है कि भविष्य में इस प्रकार की लापरवाही न हो। पीएम के लिए निर्धारित हेलीपैड पर किसी अन्य वीआइपी का हेलीकाप्टर न उतरने पाए।
 
 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार