सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

रायपुर मारवाड़, दीपावास मै ट्रेन की चपेट में आने से 6 गाय की मौत और 3 ग़ंभीर रूप से घायल | रायपुर मारवाड़, दीपावास मै ट्रेन की चपेट में आने से 6 गाय की मौत और 3 ग़ंभीर रूप से घायt

6गायौ की मौकै पर मौत हौ गई .जबकि दौ बैलौ की जान बच गई

चिमनसिह
  • Jun 11 2021 8:32PM
Rajasthan रायपुर मारवाड़, दीपावास मै ट्रेन की चपेट में आने से 6 गाय की मौत और 3 ग़ंभीर रूप से घायल | घायल को सोजत गौशाला मैं ले जाया गयी रायपुर मारवाड़ रायपुर मारवाड, के गांव दीपावास में उस वक्त दर्दनाक हादसा हो गया जब एक मालगाड़ी की चपेट में आने से 6 गायों की मौत हो गई. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक करीब 9 से 10 गाय रेलवे ट्रैक की साइड से जा रही थीं. उसी समय वहां मालगाड़ी निकल रही थी. मालगाड़ी के ड्राइवर ने चेतावनी देने के लिए हॉर्न बजाया, लेकिन हॉर्न बजने की आवाज से डरकर गाय रेलवे ट्रैक पर चढ़ गई. इसके साथ ही मालगाड़ी की चपेट में आने से 6 गायों की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि एक गाय और दो बैल की जान बच गई, जिन्हें पास लगती सोजत गौशाला में छोड़ दिया गया. वही मृतक गायों को ग्रामीणों ने अपने स्तर पर रायपुर गौ सेवकों की मदद से उन्हें दफनाया दिया है. इस दुर्घटना को लेकर लोगों मेें नाराजगी है. रायपुर गौ सेवकों ने इसे मालगाड़ी के ड्राइवर की लापरवाही बताया. उन्होंने कहा कि ड्राइवर को साफ तौर पर दिख गया था कि रेलवे ट्रैक पर गाय हैं .अगर वो चाहता तो ब्रेक मार सकता था और गायों की जान बचाई जा सकती थी. उन्होंने कहा इससे पहले भी दर्जनों गायों की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई थी. इसको लेकर वह कई बार रेलवे प्रशासन से रेलवे ट्रैक के दोनों साइड रेलिंग लगवाने की गुहार लगा चुके हैं, लेकिन रेलवे प्रशासन ने कोई सुनवाई नहीं की किसानों ने मवेशियों को बांधना छोड़ दिया किसान गाय-बैल को लेकर संजीदा नहीं हैं। कोई भी किसान अपने मवेशियों को सार में नहीं बांध रहे हैं। इसलिए मवेशी 24 घंटे सड़क और खेत में मंडराते हैं। खेत की ओर जाने वाले मवेशियों को किसान लंबी दूरी तक भगाते हैं। यही कुछ इन 10 गायों के साथ हुआ होगा। परंतु अब तक ऐसा कोई वाक्या सामने नहीं आया है और न ही गायों का कोई मालिक सामने आया चिमनसिह राजपुरौहित सुदर्शऩ ऩ्युज रायपुर

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार