सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

हड़बड़ाता सरफराज पुलिस को बताया कि अपहरण हो गया उसकी 3 बेटियों का.. लेकिन पुलिस को लग गया कि कुछ गड़बड़ जरूर है

फिर जांच में सामने आई एक बेहद खौफनाक कहानी..

Sudarshan News
  • Jun 2 2020 5:43PM

फिर से निशाने पर आ चुका था कोई । फिर से दोषी बनाया जाना था किसी को लेकिन धन्यवाद है संत कबीर नगर पुलिस का जिसने चेहरे से ही भांप लिया कि कहीं कुछ ना कुछ गड़बड़ जरूर है और आखिरकार सच को सामने ला ही दिया। सच ये था कि अब्बा सरफराज ने पहले दोस्त के साथ मिलकर बेटियों को जिंदा घाघरा नदी में फेंका, फिर फैला दी अपहरण की सूचना।।

उत्तर प्रदेश के संतकबीर नगर जिले से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। यहां पिता ने अपने दोस्त के साथ मिलकर अपनी तीन बेटियों को घाघरा नदी में फेंक दिया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी पिता ने अपने कपड़े फाड़ कर ब्लेड से शरीर पर चोट के निशान बनाकर तीनों बेटियों के अपहरण की सूचना फैला दी।

रविवार की रात अपने एक दोस्त के साथ अपनी सात साल, पांच साल और ढाई साल की तीनों बेटियों को बाइक से लेकर बिडहर घाट पुल पर गया। पुल से ही तीनों बेटियों को जिंदा घाघरा नदी में फेंक दिया।

और कपड़े फाड़ कर अपनी तीनों बेटियों के अपहरण की सूचना फैला दिया। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और जांच पड़ताल की तो घटना की यही कहानी सामने आई है। आरोपी पिता और उसके दोस्त को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपी पिता ने ऐसी घटना क्यों किया अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। फ़िलहाल बच्चियों की तलाश के लिए गोताखोर लगाए गए हैं। एसडीआरएफ की टीम को भी मदद के लिए बुलाया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, धनघटा थाना क्षेत्र के डीहवा गांव निवासी सरफराज पुत्र सोहराब जिसकी उम्र लगभग 32 वर्ष 20 दिन पहले ही मुंबई से लौटा है और उसकी चार बच्चियां हैं। घटना की पीछे पारिवारिक कलह बताई जा रही है। एएसपी असित श्रीवास्तव ने बताया कि रविवार की रात अपने एक दोस्त के साथ अपनी सात साल, पांच साल और ढाई साल की तीनों बेटियों को बाइक से लेकर बिडहर घाट पुल पर गया। पुल से ही तीनों बेटियों को जिंदा घाघरा नदी में फेंक दिया।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार