सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कपड़े की सिलाई करने वाला टेलर फैसल गाडी पर लिखवा रखा था Press . लेकिन उस सच को भांप गई सहारनपुर पुलिस और करवाया Lockdown का सही पालन

बना रहे हैं नए नए बहाने लाक डाउन तोड़ने के लिए.

Sudarshan News
  • Apr 24 2020 4:08PM
प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित देश और दुनिया के सभी जिम्मेदार इस समय लाक डाउन का सख्त पालन करने करने के लिए दिन रात आवेदन कर रहे हैं.. लेकिन उसके बाद भी कुछ ऐसे तत्व हाँ जो इसको मानने के लिए तैयार नहीं है और किसी भी तरह से इसको तोड़ने पर आमादा हैं. यद्दपि सतर्क और चौकस पुलिस बल उन्हें ऐसा करने से रोकने में काफी हद तक सफल भी हो रही है. ऐसा ही एक मामला आया है उत्तर प्रदेश के हरियाणा सीमा से लगते जिला सहारनपुर से. 

जनता की सहूलियत को ध्यान में रखते हुए शासन ने मीडिया , एम्बुलेंस , पुलिस इत्यादि के परिचलन पर प्रतिबन्ध नहीं लगाया है लेकिन इन्ही के दुरूपयोग की सबसे ज्यादा खबरें सामने आ रही हैं. इसमें हर किसी का संभावित नुकसान है लेकिन इसके बाद भी लॉकडाउन के दौरान ऐसे लोगों की जिले में बाढ़ सी आ गई है जो प्रेस लिखे वाहनों को लेकर घूम रहे हैं। पुलिस ने अब इन पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पुलिस ने चेकिंग के दौरान ऐसे कई लोगों को पकड़कर चालान काट दिया। वहीं कुछ दोपहियां वाहनों के चालान भी काट दिए। ऐसे ही एक टेलर मास्टर की गांडी को पुलिस ने सीज कर दिया। 

टेलर मास्टर अपनी गाड़ी के आगे प्रेस लिखकर घूम रहा था। पकड़े जाने पर वह कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सका। पुलिस ने पहले तो उससे सड़क पर उठक-बैठक लगवाई फिर गाड़ी सीज कर दी। कोतवाली मंडी के शाहबेलोल चौकी इंचार्ज जितेंद्र कुमार त्यागी द्वारा लॉकडाउन का उलंघन कर बाइकों से घूमते लोगों के विरुद्ध चलाए गए चेकिंग अभियान में तीन दर्जन से अधिक बाइकों के चालान काटे। इस दौरान इन वाहनों से 40600 रुपए का जुर्माना भी वसूला गया। चेकिंग के दौरान प्रेस लिखी गाड़ी पर घूमते एक युवक को रोककर जब पूछताछ की गई तो उसने अपना नाम फैसल पुत्र मोहम्मद अयूब डिफेंस कॉलोनी बताया ओर कोर्ट रोड पर कपड़ों की सिलाई करने वाला बताया। टेलर मास्टर ने बताया कि उसने पुलिस से बचने के लिए प्रेस लिखवाया हुआ है। जिसके चलते पुलिस द्वारा प्रेस लिखी स्प्लेंडर बाईक को सीज कर दिया गया। टेलर मास्टर से सड़क पर ही उठक-बैठक लगवाकर भविष्य में लॉकडाउन का पालन करने और घर में रहने की हिदायत देकर छोड़ा दिया गया।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार