सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

UP में नए खतरे का आगाज़, यूपी ATS ने दबोचे 11 रोहिंग्या.. पूछताछ जारी..

पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार द्वारा इन जिहादी रोहंगिया मुसलमानों को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए गंभीर समस्या बन सकने की बात कही गयी

रजत के.मिश्र, Twitter - rajatkmishra1
  • Jun 12 2021 3:13PM

इनपुट-ज्ञानेश लोहानी, लखनऊ 

योगी सरकार की उत्तर प्रदेश पुलिस लगातार अपराधों पर रोक लगाने में कामयाब हो रही है। यूपी एसटीएफ ने अवैध रूप से घुसपैठ कर रहे 11 रोहिंज्ञाओं को गिरफ्तार किया हैं।
 
इस तरह देते हैं घुसपैठ को अंजाम-
 
बता दें कि एसटीएफ अपने सूत्रों के आधार पर उन सभी गिरोह को दबोच रही है जो बंगलादेश के रास्ते अवैध रूप से भारत मे प्रवेश कराकर उनको विभिन्न जिलों में बसा देते हैं, उसके पस्चात उनको वहाँ की छोटी फैक्टरियों या कारखानों में मज़दूरी का काम दिलवा कर अवैध वसूली भी करते हैं।
 
अवैध रूप से घुसपैठ करने के दौरान गिरफ्त में आए अजीमुल हक उर्फ अज्जिउल्ला हसन, हसन अहमद उर्फ फारुख,मोहम्मद शाहिल उर्फ मो.शाहिद को संतकबीरनगर,अमानुल्ला को अलीगढ़ आमिर हुसैन व नूर आलम को गाज़ियाबाद,अब्दुल माज़िद नोमान अली,मो.रिज़वान खान सुलतान हुसैन शामली से गिरफ्तार किया गया।इनके साथी 2 अवैध बंगलादेश के लोग भी गिरफ्तार किए गए,ये सभी म्यांमार ओर बांग्लादेश के निवासी थे।
 
गिरफ्त में आए रोहांगीयो के पास से फ़र्ज़ी दस्तावेज के आधार पर बनाए गए पासपोर्ट, पैनकार्ड, राशन कार्ड, वोटर कार्ड, आधार कार्ड,ड्राइविंग लाइसेंस आदि बरामद किए गए है।
 
प्रत्येक जिले के कप्तानों को दिया गया निर्देश-
 
पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार द्वारा इन जिहादी रोहंगिया मुसलमानों को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए गंभीर समस्या बन सकने की बात कही गयी और इसी के मद्देनजर इनको तलाश कर गिरफ्तार किया जा रहा है,वही हर जिले के कप्तानों को इन पर नज़र रखने के लिए निर्देशित भी किया गया हैं।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार