सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

कोवीड 19 के लिये राँची के निगमकर्मियों की प्रतिनियुक्ति पर राँची मेयर ने उठाये सवाल, रांची डीसी को लिखा पत्र!

पायुक्त राय महिमापत रे द्वारा रांची नगर निगम के 53 कर्मियों को इंसीडेंट कमांडर के रूप में प्रतिनियुक्त किए जाने पर मेयर आशा लकड़ा ने शुक्रवार को रांची नगर निगम के अधिकारियों को फटकार लगायी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि रांची नगर निगम एक स्वतंत्र संस्था है। उपायुक्त रांची नगर निगम के कर्मियों को इंसीडेंट कमांडर के रूप में कैसे प्रतिनियुक्त कर सकते हैं।

रांची ब्यूरो
  • May 30 2020 3:50PM
राँची: उपायुक्त राय महिमापत रे द्वारा रांची नगर निगम के 53 कर्मियों को इंसीडेंट कमांडर के रूप में प्रतिनियुक्त किए जाने पर मेयर आशा लकड़ा ने शुक्रवार को रांची नगर निगम के अधिकारियों को फटकार लगायी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि रांची नगर निगम एक स्वतंत्र संस्था है। उपायुक्त रांची नगर निगम के कर्मियों को इंसीडेंट कमांडर के रूप में कैसे प्रतिनियुक्त कर सकते हैं। नगर निगम के सभागार में कनीय अभियंताओं समेत अन्य कर्मियों के साथ मेयर ने बैठक भी की। हालांकि इस बैठक में नगर निगम के कोई अधिकारी नहीं आए। लगभग आधे घंटे बाद उप नगर आयुक्त शंकर यादव सभागार में पहुंचे तो मेयर ने उनसे पूछा कि उपायुक्त हमारे कर्मियों को अन्य कार्यों में कैसे लगा सकते हैं। नगर विकास विभाग के सचिव स्वयं सड़क पर उतर कर नालियों की सफाई का निरीक्षण कर रहे हैं। मानसून से पूर्व बड़े नालों व नालियों की सफाई का काम पूरा करना है। कई वार्डों में ठेकेदारों को सड़क व नाली समेत अन्य लंबित कार्यों को पूरा करने का निर्देश दिया गया है। ऐसे में जब हमारे अभियंता और सुपरवाइजर ही नहीं रहेंगे तो नगर निगम का काम कैसे होगा। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण व लॉकडाउन की बढ़ती मियाद के कारण रांची नगर निगम में कर्मियों की कमी है। कई कार्य पहले से प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कनीय अभियंताओं समेत अन्य कर्मियों को कहा कि सभी लोग अपने-अपने कार्यों पर ध्यान दें। मेयर ने उपायुक्त राय महिमापत रे को पत्र लिख सुपरवाइजरों व अभियंताओं को इंसीडेंट कमांडर की भूमिका से मुक्त रखने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि नगर विकास विभाग के सचिव का निर्देश है कि जल्द से जल्द नालियों की सफाई कराई जाए। ऐसे में प्रवासियों की देखरेख में सुपरवाइजरों व अभियंताओं को लगाए जाने पर नालियों का सफाई कार्य बाधित होगा। उपायुक्त के आदेश का पालन करने पर नगरपालिका अधिनियम की धारा-70 के तहत रांची नगर निगम अपने मूल कार्यों को करने में असफल होगा। से ऐसे में सुपरवाइजरों व अभियंताओं के स्थान पर रांची नगर निगम के कम्युनिटी अॉर्गनाइजरों व टैक्स कलेक्टरों को प्रवासी मजदूरों के देखरेख में लगाने का निर्देश दिया गया है। मेयर ने पत्र के माध्यम से उपायुक्त को कहा है कि डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट की धारा-25 के तहत आपकी अध्यक्षता में डिस्ट्रिक्ट अथॉरिटी का बैठक होना चाहिए था। स्थानीय निर्वाचित चेयरपर्सन होने के नाते मैं भी उस कमेटी की सदस्य हूं। बैठक में यह निर्णय होना चाहिए था कि किसे क्या करना है और किसे किस काम में लगाया जाए। कमेटी के निर्णय के आधार पर आप इस प्रकार का आदेश पारित करते तो उचित होता। परंतु आपके द्वारा ऐसा नहीं किया गया। अब लॉकडाउन-4 समाप्त होने की ओर है। फिर भी आपने अब तक एक भी बैठक नहीं की। अत: आपसे आग्रह है कि जल्द से जल्द डिस्ट्रिक्ट अथॉरिटी की बैठक बुलाएं।
 

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार