सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

RBI ने लिया रेपो रेट ना बढाने का फैसला.. नहीं मिलेगी EMI पर भी राहत

6 अक्टूबर को मौद्रिक नीति कमिटी की बैठक शुरू हुई थी और आज यानी शुर्कवार को समाप्त हो गई है. जिसमे देश की मौद्रिक नीति तय करने वाले RBI ने अपने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है.

Abhinya
  • Oct 8 2021 11:32AM

6 अक्टूबर को मौद्रिक नीति कमिटी की बैठक शुरू हुई थी और आज यानी शुर्कवार को समाप्त हो गई है. जिसमे देश की मौद्रिक नीति तय करने वाले RBI ने अपने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है.

भारतीय रिजर्व बैंक  के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बैठक समाप्त होने के बाद कमिटी के फैसले की जानकारी देश को दी. मौद्रिक नीति कमिटी की बैठक के बाद शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि रिजर्व बैंक ने रेपो रेट को 4 फीसदी और रिवर्स रेपो रेट को 3.5 फीसदी पर बरकरार रखा है.

बता दें, लगातार रेपो रेट स्थिर रहने के बावजूद त्योहारी सीजन में कई बैंकों ने ग्राहकों को सीमित अवधि के लिए ब्याज दर पर राहत दी है. वहीं, कुछ बैंकों ने प्रोसेसिंग फीस में छूट के अलावा लोन चुकाने की अवधि में इजाफा भी किया है.  

सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक खपत और एग्री ग्रोथ तो अच्छी दिख रही है. लेकिन औद्योगिक और सर्विस ग्रोथ में सुधार होना है. खास तौर पर, सर्विस सेक्टर में अभी मुश्किल है. रिजर्व बैंक के सामने ऐसी कई और चुनौतियां हैं.

साथ ही, भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन दिनेश खारा ने हाल में कहा था कि ऐसा लगता है कि ब्याज दरें यथावत रहेंगी. उन्होंने कहा था, वृद्धि में कुछ सुधार है. ऐसे में मुझे लगता है कि ब्याज दरें नहीं बढ़ेंगी. हालांकि, केंद्रीय बैंक की टिप्पणी में मुद्राफीति का उल्लेख होगा. 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार