सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

लाहौर में फंस गए हैं 800 सरदार... दिल्ली में बनाये जा रहे नए समीकरण से एकदम अलग हैं हालात

पाकिस्तान: फ्रांसीसी राजदूत को निष्कासित करने की मांग को लेकर खूनी प्रदर्शन, लाहौर में 800 भारतीय सिख फंसे

Shiv Kumar
  • Apr 14 2021 3:55PM
धर्म के नाम पर बना पाकिस्तान अपने ही धार्मिक कट्टरपंथियों से परेशान हो उठा है। पाक में आये दिन कट्टरपंथी नई नई मागों को लेकर प्रदर्शन करते रहते हैं। अब इनकी नई मांग फ्रांसीसी राजदूत को पाकिस्तान से निष्कासित करने की है जिसको लेकर ये कट्टरपंथी प्रदर्शन कर रहें हैं जो कि अब हिंसा का रूप ले चुका है। जिस हिंसा में करीब  800 भारतीय सिख फंस गये हैं। 

दरअसल टीएलपी पिछले कई महीनों से फ्रांस के राजदूत को पाकिस्तान से निकालने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही है... मंगलवार को टीएलपी के मुखिया साद रिजवी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद वहां हिंसा भड़क उठी। मीडिया के मुताबिक, हिंसा में एक पुलिसकर्मी की भी कट्टरपंथियों ने हत्या कर दी। वहीं टीएलपी ने भी अपने 12 कार्यकर्ताओं के मारे जाने का दावा किया है।

बता दें कि इस पूरे तनाव के बाद लाहौर में भारी सुरक्षाबल तैनात है। टीएलपी के कार्यकर्ताओं ने भी सड़कें जाम कर रखी हैं.। जिससे वहां 8000 से ज्यादा भारतीय सिख फंस गए हैं। सोमवार को ही बैसाखी मनाने के लिए 815 सिखों का जत्था वाघा बॉर्डर के जरिए पाकिस्तान पहुंचा था। ये वहां स्थित गुरुद्वारा पंजा साहिब के दर्शन करने के लिए गए थे। लेकिन वो अब तक गुरुद्वारे नहीं पहुंच सके हैं।

पाकिस्तान सरकार के एक अधिकारी के हवाले से बताया है कि मंगलवार को 25 बसों से इन सिखों को गुरुद्वारा पंजा साहिब ले जाया जा रहा था, लेकिन हिंसा भड़कने की वजह से रोड ब्लॉक कर दी गई थी... इस वजह से सिख श्रद्धालु लाहौर में ही फंस गए हैं। पाकिस्तानी अधिकारी का कहना है कि बुधवार को सिखों को गुरुद्वारा पंजा साहिब पहुंचाने की कोशिश की जाएगी।

बता दें कि पाकिस्तान की ऐसी ही हरकतों के कारण कोई भी देश इनकों महत्व नहीं देता, हाल ही में ब्रिटेन ने पाकिस्तान को बड़ा झटका दिया है पाक की ऐसी हरकतों के चलते 'खतरनाक' देशों की लिस्ट में शामिल कर दिया है। जिससे उस पर  ब्लैकलिस्ट होने का खतरा भी बढ़ गया है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार