सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

दिल्ली, मुंबई के बाद अब पुणे में मजदूरों का धैर्य टूटा.. Lockdown के बाद भी सैकड़ो मजदूर उतरे सड़को पर

अपने घरों को जाने के लिए हैं परेशान विभिन्न राज्यो के मजदूर.

Sudarshan News
  • Apr 29 2020 1:08PM
लॉक डाउन में विभिन्न राज्यों के अलग-अलग जगहों पर फंसे मजदूरों ने से जिस प्रकार से दिल्ली और मुंबई में अपने घरों को जाने के लिए नियम कानून तोड़े थे, लगभग उसी की पुनरावृत्ति महाराष्ट्र के पुणे में भी दिखाई दे रही है। सरकार की बद इंतजामी के चलते महाराष्ट्र के  ही पुणे में भी मजबूर हो सड़कों पर उतर आए है सैकड़ों मजदूर .. एक लंबे इंतजार के बाद आखिरकार इनका धैर्य जवाब दे ही गया.  खास कर लॉक डाउन बढ़ने की तमाम अपुष्ट खबरों ने इनकी अधीरता को और भी ज्यादा बढ़ा दिया. ऐसे में कहना गलत नहीं होगा कि महाराष्ट्र का प्रशासन एक बार फिर कहीं न कहीं अपने राज्य में मौजूद मजदूरों को संभालने में विफल ही साबित होता दिखाई दे रहा है..

मिल रही जानकारी के अनुसार पुणे शहर में मजदूरों का टूटा है सब्र जिसके चलते सैकड़ों मजदूर निकले रास्ते पर. पुणे के हिंजवडी इलाके की है ये घटना. देश भर में लॉक डाउन के चलते हजारों मजदूर अलग अलग जगह फसे पड़े हे । ऐसे में उनके घर जाने का कोई ठिकाना नहीं है। वहीं महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे शहर में सबसे ज्यादा मजदूर बाहरी राज्य से फसे पड़े हैं । पुणे के हिंजवाड़ी परिसर में ने कई मजदूर फसे पड़े हे। आज तक उन्होंने किसी तरह अपने दिन निकाले लेकिन आज उनके सब्रा का बांध टूटता नजर आया, करीब 300 से 400 मजदूर सड़क पर उतर आए और अपने गांव जाने की मांग करने लगे। ऐसे में तुरन्त कुछ देर बाद उन्हें समझाया गया ..

लेकिन मुद्दा ये हे के मजदूरों को आधिर राज्य सरकार किस तरह से मदद कर भेजेगी। पुणे के हिंजवडि इलाके में बांधकम करने वाले यह सैकड़ों मजदूर है कि अपने घर जाने की जट्टो जहट में लगे है। हिंजवड़ी पुलिस ने जैसे ही भीड़ सड़क ओर देखी तो कड़ी सुरक्षा के साथ मजदूरों को अपने घर वापिस लौटा दिया और उनके खाने पीने की जिम्मेदारी प्रशासन लेगी ऐसा आश्वासन दिया है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार