सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

वामपंथी झूठ को कुचल कर फिर सत्य साबित हुआ सुदर्शन. कोरोना के विस्तारक मौलाना साद के खिलाफ अब ED ने भी दर्ज किया केस

सुदर्शन न्यूज़ लगातार उठा रहा था आवाज और आखिरकार वो सत्य साबित हुआ.

Sudarshan News
  • Apr 16 2020 9:10PM
ये आवाज सिर्फ सुदर्शन न्यूज़ ने उठाई थी और कहा था कि भारत में तबलीगी जमात का सबसे बड़ा मुखिया मौलाना साद बहुत बड़ा गुनाहगार है भारत में कोरोना फैलाने का. उस समय तमाम वामपंथी पोर्टल और हिन्दू विरोधी फैक्ट चेकर उतर आये थे सुदर्शन न्यूज़ की खबरों के खिलाफ लेकिन सुदर्शन अपनी बात पर अटल और अडिग रहा जिसका सुखद परिणाम आख़िरकार अब देश के आगे है. तबलीगी जमात को मस्जिद में रहने और यहाँ तक कि वहीँ मर जाने पर अच्छी मौत की सलाह देने वाले मौलाना साद के कुकर्मो का अब हिसाब शुरू हो चुका है जिसमे उस पर आपराधिक FIR के साथ साथ अब ED ने भी केस दर्ज कर लिया है. इसी बीच मिल रही नई जानकारी के अनुसार  क्राइम ब्रांच के एक अधिकारी के मुताबिक तेलंगाना व जम्मू के बाद अब दिल्ली में भी कुछ जमातियों की कोरोना से मौत हुई है।  क्राइम ब्रांच के एक अधिकारी के मुताबिक तेलंगाना व जम्मू के बाद अब दिल्ली में भी कुछ जमातियों की कोरोना से मौत हुई है।

तबलीगी जमात के खिलाफ सुदर्शन न्यूज़ ने तब ही मुहिम चलाई थी जब बुलंदशहर के इस्तेमा से वहां का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया था. यही हरकतें उस समय भी वामपंथी पोर्टलों और हिन्दू विरोधी फैक्ट चेकरो द्वारा की गई थी. लेकिन तब और अब दोनों बार आखिरकार सुदर्शन न्यूज़ सत्य साबित हुआ है. ध्यान देने योग्य है कि दिल्‍ली के मरकज कांड के बाद से डर कर अब तक फरार चल रहे मौलाना साद के खिलाफ पुलिस के साथ अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बड़ी कार्रवाई की है। इडी ने मौलाना साद के खिलाफ पीएमएलए के तहत मामला दर्ज कर लिया है। इस कार्रवाई के बाद अब मौलाना की मुश्‍किलें बढ़ना तय माना जा रहा है।इस मामले में सतर्कता से जांच कर रही दिल्‍ली पुलिस को t तबलीगी जमात में शामिल करीब 900 विदेशियों के बारे में अब तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है.

इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार का भी आक्रामक कदम दिखाई दिया है. उत्‍तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में तब्लीगी जमात के मुखिया मौलाना साद के ससुराल पक्ष से जुड़े चार लोगों पर महामारी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। इनपर आरोप है कि इन्होंने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री छिपाई। इन चार लोगों में से दो की रिपोर्ट भी पॉजिटिव है। कोरोना के संक्रमण को लेकर देश में बड़ा संकट खड़ा करने वाले तब्लीगी जमात प्रमुख मौलाना मुहम्मद साद सहित छह अन्य मौलानाओं पर क्राइम ब्रांच ने शिकंजा कस दिया है। सातों मौलानाओं पर दर्ज मुकदमे में अब गैर इरादतन हत्या और गैर इरादतन हत्या का प्रयास की दो धाराएं जोड़ी गई हैं। दोनों गैर जमानती धाराएं हैं। जमात में शामिल कई लोगों की मौत हो जाने पर गृह मंत्रलय के निर्देश पर क्राइम ब्रांच ने यह निर्णय लिया है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार