सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

बिल्डर के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे सोसायटी वासियों के नोएडा पुलिस ने रद्द किए नोटिस

बिसरख पुलिस ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित श्रीराधा स्काई गार्डेन के 10 निवासियों के खिलाफ जारी नोटिस को फिलहाल रद्द कर दिया है।

Anchal Yadav
  • Feb 25 2021 8:10PM
गौतमबुद्ध नगर की बिसरख पुलिस ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित श्रीराधा स्काई गार्डेन के 10 निवासियों के खिलाफ जारी नोटिस को फिलहाल रद्द कर दिया है। मंगलवार को पुलिस ने सेक्टर -16 स्थित सोसाइटी के इन लोगों के खिलाफ नोटिस जारी किया था। इन सबसे कोतवाली में प्रस्तुत होकर अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया था। निवासियों ने इसकी शिकायत पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह से की। इसका संज्ञान लेते हुए उन्होंने सेंट्रल नोएडा के डीसीपी हरीश चंद्र को कारवाई करने के लिए कहा। उनकी पहल पर पुलिस ने जारी नोटिस को रद्द किया।

दरअसल पिछले रविवार को श्रीराधा स्काई गार्डेन के निवासी सोसाइटी में बिल्डर के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। उनका कहना था कि बिल्डर सुविधाओं के नाम पर मोटी शुल्क वसूल रहा है, मगर सोसाइटी में बुनियादी सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। जरूरी सुविधाओं की मांग को लेकर सैकड़ों लोग इकट्ठा हुए थे। ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सेक्टर -16 स्थित श्रीराधा स्काई गार्डेन सोसाइटी के निवासी अक्सर बिल्डर के विरूद्ध प्रदर्शन करते रहे हैं। लेकिन उनकी मांग अब तक पूरी नहीं हुई है। 

बिल्डर ने दी शिकायत
इससे परेशान श्रीराधा स्काई गार्डेन सोसाइटी के डायरेक्टर बिल्डर राम अग्रवाल ने बिसरख कोतवाली में प्रदर्शनकारी लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। इसमें कहा गया कि यह सभी लोग कोरोना महामारी के दिशानिर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं। यह सभी आए दिन इकट्ठा होकर धरना देते रहते हैं। इससे सोसाइटी में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ रहा है। बिसरख पुलिस ने इस मामले पर कार्रवाई करते हुए सोसाइटी के 10 लोगों के खिलाफ नोटिस जारी किया। इन सभी पर सीआरपीसी की धारा - 91 के तहत कार्रवाई की गई। पुलिस ने सभी को कोतवाली पहुंचकर अपना जवाब देने को कहा गया था।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार