सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

सुदर्शन की खबर का बड़ा असर.. यूपी में अब नही लगेंगे चाइनीज़ बिजली मीटर.. सुदर्शन न्यूज़ ने कल किया था खुलासा..

चाइनीज कंपनी हेक्सिंग ने धोखाधड़ी करके हथिया लिया बिजली मीटर सप्लाई करने का टेंडर, चाइनीज कंपनी ने खुद को बताया था इंडोनेशिया का.. मामला सामने आते ही सरकार ने की कार्यवाही

रजत मिश्र, उत्तर प्रदेश, ट्विटर- @rajatkmishra1
  • Jun 23 2020 7:24PM

चाइनीज कंपनी हेक्सिंग के विधुत मीटर उत्तर प्रदेश में लगाने के अपने फैसले को यूपी पॉवर कारपोरेशन ने वापस ले लिया है। पावर कार्पोरेशन ने यह स्वीकार किया है कि हेक्सिंग कंपनी के मीटर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत कई जगहों पर लगाने की तैयारी थी लेकिन अब यह मीटर उपभोक्ताओ के घर नहीं लगाए जाएंगे।

सुदर्शन न्यूज़ ने उठाया था मुद्दा -

सुदर्शन न्यूज़ ने कल यह मामला उठाया था कि किस प्रकार चाइनीज मीटर बनाने वाली कंपनी हेक्सिग जिसकी बिड को नेपाल तक ने रिजेक्ट कर दिया था उसी कंपनी ने अपना बेस इंडोनेशिया दिखाकर भारत मे मीटर सप्लाई करने का काम ले लिया और अब वही मीटर उत्तर प्रदेश के उपभोक्ताओं के घरों में लगाने की तैयारी चल रही थी। यह पूरा मामला सामने आने के बाद पावर कार्पोरेशन ने स्वीकार किया है जो भी चाइना बेस स्मार्ट मीटर प्रदेश में आये है वह उपभोक्ताओ के घर नहीं लगेंगे। 

प्रबंधन ने लिया निर्णय - 

पावर कार्पोरेशन के निदेशक वाणिज्य ऐ.के. श्रीवास्तव ने यह स्पष्ट किया है कि पूरा मामला सामने आने के बाद से प्रबंधन ने निर्णय ले लिया है कोई भी  चाइना बेस स्मार्ट मीटर उपभोक्तओ के यहाँ नहीं लगाए जाएंगे। इससे संबंधित निर्देश सभी जरूरी जगहों पर दे दिए गए है।

पहले भी लगाए गए थे चाइनीज़ मीटर- 

इससे पूर्व भी एक बार उत्तर प्रदेश में उपभोक्ताओं के घरों पर चाइनीस मीटर लगाए गए थे जिसमें जबरदस्त तरीके से शिकायतें सामने आई थी उसके बाद उन फ़ॉल्टी मीटरों को उतार कर उनकी जगह है इंडियन मीटर लगाए गए। इस बार पुनः चाइनीस कंपनी ने टेंडर हथियाने के लिए कागजों में हेराफेरी करके खुद को इंडोनेशिया बेस्ड कंपनी दिखाया जिसके बाद मीटर सप्लाई करने का टेंडर हथिया लिया लेकिन समय रहते ही पूरा मामला खुलने के बाद अब इस कंपनी द्वारा सप्लाई किए गए मीटर लगाने का निर्णय वापस ले लिया गया है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार