सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

अब तो केजरीवाल सरकार ने भी माना.. राजधानी दिल्ली में कोरोना के 68% मामले अकेले तबलीगी जमात के चलते

अरविन्द केजरीवाल के स्वास्थ्य मंत्री का बयान दिल्ली में कोरोना के वर्तमान हालात पर.

Sudarshan News
  • Apr 17 2020 11:13AM
इस आवाज को पहले दिन से सुदर्शन न्यूज़ उठा रहा है और तमाम तथ्यों के साथ बताया है कि Corona के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार मरकज़ से जुड़े तबलीगी जमात वाले ही हैं. उस समय मीडिया के वामपंथी वर्ग और हिन्दू विरोधी फैक्ट चेकर मैदान में उतरे थे और अपनी तरफ से कहानियाँ गढ़ कर इस सच को ढकने की हर सम्भव कोशिश करने लगे थे. लेकिन एक के बाद एक ऐसे मामले खुलते चले गये कि देश ही नही बल्कि दुनिया जान गई कि काबू में आ चुके कोरोना को भारत में फिर से बेकाबू बनाने के लिए सबसे ज्यादा मरकज़ और तबलीगी जमात वाले ही जिम्मेदार है. सुदर्शन न्यूज़ अपनी मांग में इन सबके मुख्य जिम्मेदार मौलाना साद की गिरफ्तारी की भी मांग जारी रखा जिसका आज सार्थक असर भी देखने को मिल रहा है जब न सिर्फ उस मौलाना पर आपराधिक FIR दर्ज हुई है बल्कि ED ने भी अपनी तरफ से उस पर केस दर्ज कर लिया है और उसके पास आने वाले पैसों की जांच शुरू हो गई.

लेकिन अब सुदर्शन न्यूज़ के दावे को खुद अरविन्द केजरीवाल सरकार ने भी परोक्ष रूप से स्वीकार कर लिया और उत्तर प्रदेश की बुलन्दशहर पुलिस के अंदाज़ में पेश किये गये अपने आंकड़े में बताया है कि दिल्ली में कोरोना के कुल मामलों में 68% अकेले ही मरकज़ से जुड़े लोग जिम्मेदार हैं. ये इशारा सीधे सीधे तबलीगी जमात पर है जिसकी राह अब आगे और मुश्किल होने जा रही है. ध्यान देने योग्य है कि भारत की राजधानी दिल्ली में कोरोना (Corona virus) के मामलों में वृद्धि देखने को मिल रही है और यहां संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर डेढ़ हजार को भी पार कर के अब 1578 तक पहुंच गई है. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि राजधानी में 1,000 से अधिक मामले मरकज से जुड़े हुए हैं. मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार (Thursday) को कहा कि दिल्ली में कोरोना (Corona virus) के पॉजिटिव मामलों में 68 प्रतिशत से अधिक ऐसे व्यक्ति हैं जो निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के आयोजन में शामिल हुए थे.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार (Thursday) को बताया कि 3 हफ्ते का लॉकडाउन (Lockdown) पूरा हो चुका है और अभी लगभग दूसरे चरण का 17-18 दिन का लॉकडाउन (Lockdown) अभी भी बचा हुआ है. उन्होंने इसका पालन करने पर जोर देते हुए कहा है कि अगर लोग लॉकडाउन (Lockdown) का ठीक से पालन करते हैं तो कोरोना (Corona virus) को काफी हद तक नियंत्रित किया जा सकता है. इसके लाभ गिनाते हुए उन्होंने बताया कि पिछले 3 हफ्ते से लॉकडाउन (Lockdown) था, इसलिए यह इतना ज्यादा नहीं फैला है और नियंत्रण में है. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि गुरुवार (Thursday) को एक पिज्जा डिलीवरी ब्वॉय के कोरोना संक्रमित होने का पता चला है. इसके बाद उसके साथ जुड़े 17 अन्य डिलीवरी ब्वॉयज को सरकारी क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है और 72 लोगों को होम क्वारंटाइन में जाने के लिए कहा गया है.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार