सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

गांधी के अहिंसक सिद्धांत मुस्करा कर बताने वाला योगेंद्र यादव चार्जशीट में है दिल्ली पुलिस के जांबाज़ रतनलाल की हत्या में

हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की हत्या के मामले में स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव का भी जिक्र, चार्जशीट में ..।

Sudarshan News
  • Jun 22 2020 9:06PM

फरवरी के महीने में, नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में दंगाइयो द्वारा हुई हिंसा में हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की हत्या हो गयी थी। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की है, जिसमें स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव, स्टूडेंट लीडर कवलप्रीत कौर और एडवोकेट डीएस बिंद्रा का भी नाम शामिल है। हालांकि ये तीनों, 17 आरोपियों की लिस्ट का हिस्सा नहीं हैं।

चार्जशीट के अनुसार, 24 फरवरी को, "नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में गंभीर साम्प्रदायिक दंगे हुए, जिसमें 750 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए, 53 लोगों ने अपनी जान गंवाई, जिनमें दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल भी शामिल थे।" रतन लाल को "डंडों, रॉड्स से पीटा गया ... उन्हें जीटीबी अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।" 25 फरवरी को उनका पोस्टमार्टम हुआ और चार्जशीट के मुताबिक, "यह पता चला कि गनशॉट इंजरी की वजह से उनकी मौत हुई। कुल मिलाकर, उनके शरीर पर 21 चोटें लगी थीं।''

चार्जशीट में कहा गया है कि चांद बाग में प्रदर्शनकारियों और उस स्थल के आयोजकों का डीएस बिंद्रा (AIMIM), कवलप्रीत कौर (AISA), देवांगना कलिता (पिंजरा तोड़), सफूरा, योगेंद्र यादव जैसे लोगों के साथ लिंक होना हिंसा के पीछे के एजेंडे को दर्शाते हैं। यह लोग प्रदर्शनस्थल पर आते थे और नफरते भरे भाषण देते थे और जनता को हिंसक होने के लिए उकसाते थे।''

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार