सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

पाकिस्तानी आतंकियों के खिलाफ NIA ने खोला मोर्चा, जमात-ए-इस्लामी के ठिकानो पर छापेमारी

एनआईए अपनी जांच में आतंकी फंडिंग मामले में प्रतिबंधित जमात-ए-इस्लामी समहू के खिलाफ अभियान चला रही है।

Abhinya
  • Oct 27 2021 10:43AM

एक ओर जहाँ हिन्द के जवान आतंकियों के खिलाफ मोर्चा निकाले हुए है और पाकिस्तानी आतंकियों का खात्मा कर रहे है। वहीं दूसरी ओर राष्ट्रीय जांच एजेंसी भी एक नए अभियान की में सख्ती से जुटी हुई है, जहाँ एनआईए अपनी जांच में आतंकी फंडिंग मामले में प्रतिबंधित जमात-ए-इस्लामी समहू के खिलाफ अभियान चला रही है। 

बता दें एनआईए ने आज  जम्मू-कश्मीर में उनके कैडरों के खिलाफ आवासीय परिसरों की तलाशी ली। एनआईए ने सुबह छह बजे से जम्मू-कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ के साथ तलाशी अभियान चलाया। 

In its ongoing investigation against outlawed Jamaat-e-Islami (JeI) group in terror funding case, NIA today carried out searches at the residential premises against its cadres in J&K. The NIA conducted the search operation alongwith J&K Police and CRPF from 6 am. pic.twitter.com/g9GPgfgJQr

— ANI (@ANI) October 27, 2021

 आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले 8 और 9 अगस्त को श्रीनगर, बडगाम, गांदरबल, बारामूला, कुपवाड़ा, बांदीपोरा, अनंतनाग, शोपियां, पुलवामा, कुलगाम, रामबन, डोडा, किश्तवाड़ और राजौरी जिले में आतंकवाद विरोधी एजेंसी  द्केवारा 61 जगहों पर छापेमारी की गई थी।

साथ ही इससे पहले एनआईए ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर में नौ स्थानों पर छापेमारी की थी। इस दौरान व्यापार मार्ग के जरिए कैलिफोर्निया बादाम (बादाम गिरी) के आयात के बहाने पाकिस्तान से भारत में बड़े पैमाने पर पैसे भेजने के सिलसिले में जांच की गई। एनआईए ने जम्मू-कश्मीर पुलिस, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की सहायता से पुंछ जिले में संदिग्ध व्यापारियों के परिसरों की तलाशी ली।

आपकी जानकारी के लिए बताते चलते है कि तलाशी के दौरान, एनआईए ने संदिग्धों के परिसरों से विभिन्न दस्तावेज, डिजिटल उपकरण और अन्य आपत्तिजनक सामग्री जब्त की है।कैलिफोर्निया बादाम के आयात को बारामूला जिले के सलामाबाद, उरी और पुंछ जिले के चक्कन-दा-बाग स्थित क्रॉस-एलओसी ट्रेड फैसिलिटेशन सेंटर (टीएफसी) के माध्यम से सुगम बनाया गया था।

एनआईए ने 16 दिसंबर, 2016 को एफआईआर दायर की और केंद्रीय गृह मंत्रालय के 9 दिसंबर, 2016 के आदेश के बाद जांच शुरू की। यह जांच क्रॉस-एलओसी व्यापार मार्गों के माध्यम से होने वाले आतंकी फंडिंग के बारे में इनपुट पर आधारित है।

 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार