सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

तालिबान हमारे भाई हैं.. मुस्लिम मंत्री का शर्मनाक बयान

जो तालिबान मजहब के नाम पर लोगों का कत्लेआम करता है, महिलाओं पर अत्याचार करता है, शवों के साथ सेक्स करता है, क्या उस तालिबान के लिए सांस्कृतिक रूप से भाई शब्द का संबोधन स्वीकार्य हो सकता है?

Abhay Pratap
  • Aug 26 2021 9:39AM

जब से इस्लामिक आतंकी दल तालिबान ने अशरफ गनी सरकार का पतन किया है तथा अफगानिस्तान पर कब्जा किया है, वहां अराजकता तथा भय का माहौल बना हुआ है. तालिबानी आतंकी न सिर्फ अफगानिस्तान की राजधानी काबुल बल्कि हेरात सहित देश के विभिन्न प्रांतों तथा शहरों में निर्दोष लोगों का नरसंहार कर रहे हैं, निर्दोषों का लहू बहा रहे हैं तथा महिलाओं के अधिकारों का हनन करते हुए उन्हें प्रताड़ित कर रहे हैं.

जिस तालिबान के कारण आज पूरी दुनिया चिंतित है,  आश्चर्यजनक रूप से एक मुस्लिम मंत्री ने उसी तालिबान को अपना भाई बताया है. तालिबान को भाई बताने वाली इस मुस्लिम मंत्री का नाम है मरियम मोंसेफ जो कनाडा की जस्टिन ट्रूडो सरकार में मंत्री हैं. एक कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो कह रहे हैं कि तालिबान एक आतंकवादी संगठन है तथा दुनिया को उसे मान्यता देने के बजाय उस पर प्रतिबंध लगाना चाहिए तो वहीं दूसरी तरफ उन्हीं की सरकार की मंत्री तालिबान को भाई कहकर संबोधित कर रही है.

ट्रूडो सरकार में मुस्लिम समाज का प्रतिनिधित्व कर रही मंत्री मरियम मोंसेफ ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि वह अफगानिस्तान के हालात पर अपने तालिबानी भाइयों से बात करना चाहती हैं. मरियम मोंसेफ ने कहा कि अफगानिस्तान से लोगों को सकुशल निकालने के लिए तालिबानी भाइयों से बात करना चाहती हैं. तालिबान को भाई कहकर संबोधित करने पर एक रिपोर्टर ने आपत्ति जताई तो मरियम ने सफाई देते हुए कहा कि यह एक सांस्कृतिक संबोधन है. उन्होंने कहा कि जब मुस्लिम मस्जिद में जाते हैं तो एक दूसरे को भाई बहन ही कहते हैं.

कनाडा की मुस्लिम मंत्री मरियम मोंसेफ ने तालिबान को भाई कहने के अपने बयान का भले ही सांस्कृतिक शब्द की आड़ में बचाव किया हो लेकिन क्या सच में तालिबान को सांस्कृतिक रूप से भी भाई कहा जा सकता है? जो तालिबान मजहब के नाम पर लोगों का कत्लेआम करता है, महिलाओं पर अत्याचार करता है, शवों के साथ सेक्स करता है, क्या उस तालिबान के लिए सांस्कृतिक रूप से भाई शब्द का संबोधन स्वीकार्य हो सकता है?

मरियम मोंसेफ किस तालिबान को भाई कह रही हैं? उस तालिबान को जिसने एक युवती को इसलिए मार दिया क्योंकि उसने बुर्का नहीं पहना था? उस तालिबान को जिसने एक गर्भवती महिला की आंख इसलिए फोड़ दी क्योंकि वह जॉब पर थी? उस तालिबान को जिसने एक महिला को जिंदा जलाकर इसलिए मार दिया क्योंकि तालिबानी आतंकियों को उस महिला के हाथ का खाना खाने में स्वाद नहीं आया था? क्या ये तालिबान भाई जैसे पवित्र संबोधन के लायक है?

बता दें कि मरियम मोंसेफ अफगाना कनाडा मूल की मुस्लिम हैं जिनका जन्म ईरान में हुआ था. मोंसेफ के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उनकी जबर्दस्त आलोचना की जा रही है तथा लोग कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो से उनके खिलाफ एक्शन की मांग कर रहे हैं. हालांकि जब PC में उनके इस बयान पर विवाद बढ़ा तो उन्होंने सफाई दी कि वह तालिबान को आतंकी संगठन मानती हैं लेकिन सांस्कृतिक तौर पर उन्होंने भाई कहा था.

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार