सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

Mumbai Gay Sex Racket : "लव जिहाद" से लेकर "गे सेक्स रैकेट" में जिहादियों का हाथ .... इरफान, अहमद और इमरान नामित तीन आरोपी गिरफ्तार

मुंबई में पहली बार 'गे सेक्स' रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। थाना मालवानी पुलिस ने इस मामले में तीन युवकों को अरेस्ट किया है। यह गिरोह पिछले कई महीने से ऑनलाइन डेटिंग गे ऐप 'ग्राइंडर' के जरिए यह सेक्स रैकेट चला रहा था और ब्लैकमेलिंग भी करता था।

Shanti Kumari
  • Jan 19 2022 1:21PM
आप हमेशा से सेक्स रैकेट के बारे में सुनते आ रहे है, लेकिन गे सेक्स रैकेट के बारे में सुनकर आप भी चौक जायेंगे।  कहा जाता है कि लड़कियां सुरक्षित नहीं होती लेकिन क्या ये सुनकर आप ये कह पाएंगे की लड़के सुरक्षित है? बता दें इन जिहादियों द्वारा एक-से-एक अपराधों को अंजाम दिया जा रहा है, एक तरफ ये जिहादी लड़कियों को अपने झूठे प्रेम जाल में फंसाकर लव जिहाद को अंजाम देते है तो दूसरे तरफ लड़को को गे सेक्स रैकेट में फंसाकर उनसे पैसे ऐठने का भी जरिया ढूंढ लिए।  

आपको बता दें कि मुंबई में पहली बार 'गे सेक्स' रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। थाना मालवानी पुलिस ने इस मामले में तीन युवकों को अरेस्ट किया है। यह गिरोह पिछले कई महीने से ऑनलाइन डेटिंग गे ऐप 'ग्राइंडर' के जरिए यह सेक्स रैकेट चला रहा था और ब्लैकमेलिंग भी करता था। पुलिस जांच में सामने आया है कि इनके क्लाइंट्स में कई हाई प्रोफाइल लोग भी शामिल हैं। इन युवकों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस अब इन हाई प्रोफाइल लोगों पर भी शिकंजा कस सकती है।

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान इरफान फुरकान खान (26), अहमद फारूकी शेख (24) और इमरान शफीक शेख (24) के रूप में हुई है। मामले के दो अन्य आरोपी फरार हैं। जांच में सामने आया है कि यह ऑनलाइन ऐप के माध्यम से 'गे' लोगों से संपर्क करते थे और उनसे पैसे लेकर सेक्स मुहैया कराने का वादा करते थे।

दरअसल, आरोपियों ने एक कंपनी में अकाउंटेंट के तौर पर काम करने वाले 23 साल के एक शख्स को गे डेटिंग ऐप के जरिए अपने जाल में फंसाया था। उससे हर घंटे के हिसाब से एक हजार रुपए की मांग की गई। सब कुछ फाइनल होने के बाद पीड़ित, आरोपी द्वारा बताए पते पर पहुंचा और वहां पहले से मौजूद चार युवकों ने उसे बुरी तरह पीटा, उसका फोन, पर्स और कुछ आभूषण छीन लिए। यही नहीं आरोपियों ने उसे धमकाकर उसके एटीएम का पिन भी ले लिया।

आरोपियों ने पीड़ित का एक आपत्तिजनक वीडियो भी अपने फोन से तैयार किया और उसे इंटरनेट पर डालने की धमकी देकर वहां से चले गए। यही नहीं आरोपियों ने बोरीवली के रहने वाले पीड़ित से पैसे की डिमांड भी की। पैसे नहीं देने पर यह वीडियो पीड़ित के परिवार को दिखाने की धमकी भी दी थी। पीड़ित पैसे लाने के बहाने आरोपियों के चंगुल से आजाद हुआ और घर पहुंचकर परिवार के सदस्यों को आपबीती बताई। आरोपी भी पैसे लेने के लिए उसके साथ घर के बाहर तक पहुंचे थे।

इसके बाद आरोपियों ने देखा कि युवक अपने परिवार के कुछ सदस्यों के साथ घर से बहार आ रहा है तो वे मौके से फरार हो गए। रविवार को पीड़ित परिवार के साथ MHB पुलिस स्टेशन पहुंचा और आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करा दिया। घटना मालवानी पुलिस स्टेशन इलाके में हुई थी, इसलिए पुलिस ने इस केस को मालवानी पुलिस स्टेशन को ट्रांसफर कर दिया।

इसके बाद पुलिस उपायुक्त विशाल ठाकुर के निर्देश पर सीनियर इंस्पेक्टर शेखर भालेराव और हसन मुलानी ने अपनी डिटेक्शन टीम के साथ सोमवार तड़के मास्टरमाइंड समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इन्हें गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस का सहारा लिया। आरोपियों को सोमवार शाम को बोरिवली मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट अदालत में पेश किया गया। यहां से कोर्ट ने उन्हें तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

ताजा समाचार