सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

आर्मी जवान से मारपीट का मामला...सैनिक को पीटने वाले आरोपी आसिफ़ और अब्दुल धरे गये

थलसेना के जवान की भीड़ के सामने पिटाई, बीमार माँ-पिता के सामने जवान को पीटा गया

Yogesh Mishra
  • Jan 23 2022 12:49AM
दो दिन बाद एक बार फिर हम सभी गणतंत्र दिवस मनाएंगे। तब एक बार फिर देशभक्ति गीतों में हम झूमते और हमारे देश के वीर जवानों को नमन करते नज़र आएंगे, पर जब यही जवान हमारे सामने किसी घटना का शिकार होते हैं, तब हमारे भीतर न जाने कौन सी कायरता आकर हमें दबोच लेती है?
ऐसा ही कुछ हुआ है छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में। जहाँ माता-पिता का ईलाज कराने जा रहे हवलदार, किशोर तिवारी, जो 46 आर्म्ड रेजिमेंट अमृतसर में पोस्टेड हैं, वो बदमाशों द्वारा मारपीट का शिकार हो गए।


हम सब जानते हैं कि भारत माता के वीर सपूत यानी कि सेना के जवान देश की सुरक्षा को लेकर के 24 घंटे तैनात रहते हैं। कुछ दिन बाद गणतंत्र दिवस है। एक बार फिर हम लोग जवानों को लेकर सम्मान की बात करेंगे। लेकिन जब कोई जवान सरेराह बदमाशों के हाथ से मारपीट का शिकार होते हैं, तो हम लोग तमाशा देखते रहते हैं। 




दरअसल थल सेना का एक जवान अपने माता पिता को अस्पताल में भर्ती कराने लेकर जा रहे थे। इस दौरान ऑटो चालक ने लापरवाही पूर्वक ऑटो चलाया। जवान ने जब ऑटो चालक को समझाया, तो गुस्साए कई लड़कों ने जवान पर हमला कर दिया और जवान के साथ मारपीट किया। इस दौरान मौके पर मौजूद जवान के माता पिता अपने बेटे को छुड़ाने लगे, लेकिन धिक्कार है उन आम लोगों पर जिनके सामने भारत माता का एक जवान मार खाता हुआ नजर आ रहा था और लोग तमाशबीन बने देख रहे थे। यही नहीं मार खाने वाला पीड़ित जवान बूढ़े माता-पिता के साथ थाने में एक अदद एफआईआर के लिए घंटों बैठा रहा, तब एफआईआर दर्ज़ की गई।




आसिफ़ और अब्दुल धरे गये
घटना के बाद सुदर्शन न्यूज़ की टीम लगातार मामले में फोलोअप कर रही थी। हमने घटना के बाद एफआईआर की प्रक्रिया, फिर आरोपियों पर प्रारंभिक कार्यवाही समेत महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर सतत नज़र रखी। इस दौरान पीड़ित जवान किशोर तिवारी और राष्ट्रीय सैनिक संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश मिश्रा से हम सतत सम्पर्क में रहे। नतीजतन रायपुर पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल से हमें ये जानकारी दी कि सैनिक के साथ मारपीट करने वाले आरोपी आसिफ़ अली, अब्दुल शाहिल और एक अपचारी बालक को गिरफ़्तार किया गया है।
ये घटना रायपुर के पंडरी थाने के मित्तल हॉस्पिटल के पास हुई थी। जिसके बाद हमने इस घटना की गम्भीरता को देखते हुए लगातार इस ख़बर को प्रसारित किया था।





सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार