सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

नाम है सज़्ज़न पर बयान दुर्जनो वाला.. देखिये बच्चियों के लिए क्या बोल गए अपने नाम मे सिंह लगाने वाले सज़्ज़न

ममता के मंत्री ने प्रदर्शन की आड़ में रोकी वैक्सीन की वैन,सिद्दीकुल्ला था प्रदर्शन का सयोंजक

Khiladi parjapati
  • Jan 14 2021 6:47PM
बंगाल में कृषि आंदोलन के नाम पर ममता के मंत्री  द्वारा इकट्ठा की गयी भीड़ ने कोरोना वैक्सीन की गाड़ी भी नहीं निकलने दी,बंगाल की सियासत अब धुरविरोध ही नहीं लोगो की जीवन रक्षक वैक्सीन की गाड़ी रोकने की राजनीती बन गयी है ,देश भर में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है। जम्मू-कश्मीर से कन्याकुमारी तक और असम से गोवा तक देश के कोने-कोने तक कोविड-19 के टीके की डोज सावधानीपूर्वक और तेज गति से पहुंचाई गई।

लेकिन ममता सरकार में मंत्री सिद्दीकुल्ला चौधरी  के आह्वान पर खड़ी की गयी उत्पाती भीड़ ने वैक्सीन लेकर आ रही गाड़ी को रोक दिया ,जिसको  ड्राइवर को  रूट डायवर्ट कर  जाना पड़ा ,ये प्रदर्शन बंगाल के बर्धमान जिले में हो रहा था , जहां कोलकाता से गाड़ी वैक्सीन लेकर पहुंच रही जा रही थी जिसको प्रदर्शनकारियो ने रोक दिया जिसके बाद गाड़ी को 4 -5  किलोमीटर के लम्बे दायरे को पार कर पहुंचना पड़ा।

पुलिस अधीक्षक भास्कर मुखोपाध्याय ने मंत्री सिद्दीकुल्ला का बचाओ करते हुए  कहा उन्होंने कहा कि वाहन की आवाजाही में हुई देरी गांव के रास्ते पांच किलोमीटर की दूरी तय करने में लगे वक्त जितनी ही थी।  लेकिन लोगो का कहना है की वहां को दोबारा बाईपास पर लेन के कम से कम 20  किलोमीटर का फासला पड़ता है
इस मामले पर बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने  ट्वीट कर कहा की  उन्होंने लिखा, 'पश्चिम बंगाल के मंत्री सिद्दीकुल्लाह चौधरी ने कृषि कानून के खिलाफ पूर्बा बर्धमान के गलसी में विरोध प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन के कारण बहुत देर तक रास्ता जाम होने पर लोगों ने विरोध भी किया, मंत्री जी हाथ में लकड़ी लेकर लोगों को मारते हुए देखे गए। इस राजनीतिक पाखंड को क्या समझा जाए

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार