सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

आखिर किस वजह से सरकार ने बदला जनधन खातों में से पैसे निकालने का नियम

देश की अर्थव्यवस्था से जुड़ी एक बेहद महत्वपूर्ण खबर पर विशेष रिपोर्ट।

Sudarshan News
  • May 4 2020 1:46PM

जानिए किन वजहों से बदला सरकार ने जन-धन खाते से पैसे निकालने का नियम.  COVID-19 महामारी के चलते सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के तहत केंद्र सरकार ने लोगों के बैंक अकाउंट में पैसे डालना शुरू कर दिया है l इसी बीच मई से कुछ बदलावों के साथ बैंकों ने पैसे निकालने के नियमों को सख्त कर दिया है l 4 मई से प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत सरकार ने खातों में महिलाओं के लिए 500 रुपये की अगली किस्त को डालना शुरू कर देगी l इसके अलावा सरकार किसान सम्मान निधि और गरीब कल्याण योजना के तहत भी लोगों की आर्थिक मदद कोरोना काल में कर रही है l 

कोरोना वायरस महामारी के चलते और सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए बैंकों ने इस बार पैसा निकालने के नियमों मे बदलाव किए हैं। हालांकि यह नियम काफी सख्त भी है l पिछली बार अप्रैल में जब सरकार ने पैसा खातों में डाला था, तब भी महिलाओं की काफी भीड़ लग गई थी। अबकी बार बैंकों ने फैसला किया है कि खाता संख्या के आखिरी अंक के अनुसार लोगों को पैसा जारी किया जाएगा।

इंडियन बैंक एसोसिएशन का कहना है कि कोशिश करें कि अपने आसपास के बैंक मित्र या सर्विस सेंटर से पैसा निकाल लें l वहीं ये भी कहा है कि किसी भी एटीएम से पैसा निकाल सकते हैं इसके लिए कोई चार्ज भी नहीं लगेगा l हालांकि 11 मई के बाद कोई भी खाता नंबर वाला व्यक्ति पैसा निकाल सकता है l

इस तरह से निकलेगा पैसा :
खाता संख्या का आखिरी अंक                   पैसा निकालने की तिथि
0-1                                       4 मई
2-3                                       5 मई
4-5                                       6 मई
6-7                                       8 मई
8-9                                      11 मई

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार