सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

सेकुलर नैना कौर को चाकुओं से गोद डालने वाले शेर खान के टिक टॉक पर ज्यादातर फालोवर हिंदू, जिनमें हिन्दू लड़कियां बड़ी संख्या में

धर्मनिरपेक्ष परिवार की नैना कौर के साथ ये कैसा कुकृत्य ?

Rahul Pandey
  • Jun 24 2020 10:06AM
गाजियाबाद पुलिस के कब्जे में आये दरिंदे का नाम शेरखान है जो टिक टॉक पर हिन्दू फालोवरो के चलते बहुत फेमस हो गया था और खुद को स्टार मानने लगा था.. इसी के चलते इसके 4 लाख 25000 फॉलोअर्स है।

गाजियाबाद की एक धर्मनिरपेक्ष सिख परिवार की लड़की नैना कौर भी टिक टॉक पर सक्रिय थी फिर इस शेर खान ने उसे टिक टॉक के द्वारा अपने जाल में फंसाने की कोशिश किया और उसके एक तरफा प्यार में पागल हो गया

 फिर जब शेरखान को पता चला कि नयना कौर की शादी तय हो गई है और 4 दिन के बाद गुरुद्वारे में  उसका विवाह है और नैना कौर  अपने माता-पिता के साथ अपने विवाह की खरीदारी के लिए बाजार गई थी तब नकाब पहने शेरखान आया और उसे 40 बार चाकू से गोद डाला लोगों ने उसे पकड़ा लेकिन वह चाकू मारकर फरार हुआ लेकिन मारपीट में उसके मुंह से नकाब उतर गया और लोगों ने उसे पहचान लिया। 

 फिर उसके बाद शेरखान दिल्ली स्थित अपने भाई के घर गया भाई और भाभी तथा अपने बहन और जीजा को पूरी बात बताई इसके परिवार को यह पता चला कि हमारा सगा भाई इतना जघन्य हत्या कांड करके आया है लेकिन परिवार वाले उसे पुलिस को सौंपने के बजाय घर पर ही उसका बाल मूड दिए ताकि उसे कोई पहचान ना सके और उसे दिल्ली में एक रिश्तेदार के घर छुपा दिए । 

गाजियाबाद पुलिस ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के साथ शेरखान को भी पकड़ा और शेर खान के पूरे परिवार को सुबूत मिटाने की कोशिश और हत्या के आरोपी को छुपाने के आरोप में गिरफ्तार किया है ।


नाम :- शेरखान चौधरी उर्फ शेरू (गाज़ियाबाद)

खुद से खुद को टिकटोक स्टार कहने वाले इस हत्यारे के लगभग 4 लाख फॉलोवर थे.. इन फालोवरो मे हिन्दू समाज के ज्यादा थे, वो भी इसमे हिन्दू लड़कियों की संख्या काफी थी... इसकी टिकटोक id :- @sherkhanchoudhri02

टिकटोक पर नैना नाम की सिख लड़की के साथ वीडियो बनाई. सेकुलर पृष्ठभूमि से था नैना कौर का परिवार इसी के चलते हुई थी दोनो में गहरी दोस्ती..

आखिरकार लड़की की शादी किसी और से तय होने पर सरे बाजार खींचकर एक दुकान में ले जाकर 19 वर्षीय लड़की को चाकुओं से गोदने के बाद हुआ था फरार जिस पर रखा गया था 20 हज़ार रु का इनाम..

आखिरकार गाज़ियाबाद पुलिस ने शेरू और उसे शरण देने वालो को टिकटोकिया जो उसके साथी थे उन्हें पकड़कर जेल भेजा . असल मे सोशल मीडिया का कोई भी प्लेटफार्म हो मनोरंजन के लिये है किसी अपराध के लिये नही। इसलिए किसी को भी इतनी आज़ादी न मिले कि कल वे आपकी आजादी, इज्जत और अंत मे जिंदगी ही खत्म कर दे..

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
7 Comments

Maro suwar ko

  • Guest
  • Jun 27 2020 12:54:51:577PM

आप सभी से अनुरोध है कृपया सभी अपने फोन से टिक टॉक डिलीट कर दें

  • Guest
  • Jun 25 2020 5:35:50:163PM

जो ये साले सेकुलर होते हैं ना हिन्दू परिवार के साथ ही जादा होता है

  • Guest
  • Jun 25 2020 2:23:08:697PM

सेकुलर परिवार की माँ चुद गई

  • Guest
  • Jun 25 2020 2:22:07:507PM

अरे शेरखान राक्षस को फांसी की सजा दी जाए

  • Guest
  • Jun 24 2020 4:55:03:387PM

हिंदू भाई कब समझेंगे

  • Guest
  • Jun 24 2020 4:54:33:673PM

These bastards prosper due to secular Hindus, and finally prey on them.

  • Guest
  • Jun 24 2020 2:53:47:900PM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार