सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

डीजल , पेट्रोल पर बढ़े वैट को वापस ले केजरीवाल सरकार -डीपीडीए

दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन यानी डीपीडीए ने पेट्रोल और डीजल पर बढ़े वैट के कारण से दिल्ली में डीजल और पेट्रोल के बिक्री में भारी गिरावट के कारण प्रदर्शन किया है । साथ ही केजरीवाल सरकार से मांग की है कि पेट्रोल और डीजल में बढ़ाये वैट को घटाए ।

Alok Jha
  • Jul 7 2020 9:42AM
दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन यानी डीपीडीए ने  पेट्रोल और डीजल पर बड़े वैट के कारण से दिल्ली में डीजल और पेट्रोल के बिक्री में भारी गिरावट के कारण प्रदर्शन किया है । साथ ही केजरीवाल सरकार से मांग की है कि पेट्रोल और डीजल में बढ़ाये वैट को घटाए । डीपीडीए ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करने कहा है कि दिल्ली सरकार ने पांच मई को पेट्रोल पर वैट बढ़ाकर 27 से 30 प्रतिशत कर दिया और डीजल  पर वैट को लगभग दोगुना करते हुए 16.75 % से 30% कर दिया । 
डीपीडीए में शामिल 400 से अधिक पेट्रोल पंप के मालिकों का कहना है कि जब केजरीवाल सरकार ने डीजल और पेट्रोल पर वैट में 30% की बढ़ोतरी के साथ साथ शराब पर 70 % का सेस की लगाया था । उस वक्त केजरीवाल सरकार ने कहा था कि यह कदम राज्य सरकार के राजस्व बढ़ाने के लिए जरूरी है । लेकिन केजरीवाल सरकार ने पड़ोसी राज्यों से शराब की तस्करी और राजस्व घाटे की बात कहकर 10 जून को तो शराब से 70 फीसदी टैक्स हटा लिया लेकिन डीजल और पेट्रोल पर टैक्स अब भी जारी है । डीजल और पेट्रोल पर बढ़ी कीमतों के कारण दिल्ली के लोग पड़ोसी राज्यों के पेट्रोल पंपों से डीजल और पेट्रोल खरीद रहे है । जिससे दिल्ली के पेट्रोल पंपो की बिक्री में भारी गिरावट आई है । एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल बिजलानी ने कहा कि डीजल और पेट्रोल पर वैट के बढ़ोतरी के बाद पड़ोसी राज्यों की तुलना में दिल्ली में डीजल आठ रुपये महंगा हो गया है , जिससे यहां की बिक्री में भारी गिरावट आई है ।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार