सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

रांची में हुई बीजेपी नेता की हत्या पर झारखण्ड पूर्व सीएम रघुवर दास ने उठाया सवाल......कहा प्रशासन की लापरवाही का है परिणाम

एक ताजा मामला झारखण्ड के रांची से आ रहा है जहाँ एक बीजेपी नेता जीतराम मुंडा की गोली मरकर हत्या कर दी गई है मृतक रांची के ओरमांझी में बीजेपी अनुसूचित जनजाति मोर्चा के जिला अध्यक्ष थे। पूर्व सीएम रघुवर दास और सांसद संजय सेठ ने घटना की कड़ी निंदा की है और कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है।

SHANTI
  • Sep 23 2021 7:17PM

किसी के हक़ लिए आवाज उठाना या कहें तो देश में निष्पक्ष रहना भी गुनाह हो गया है जिसकी सजा बेख़ौफ़ बदमाश गोलियों से भूनकर देते है। ऐसा ही एक ताजा मामला झारखण्ड के रांची से आ रहा है जहाँ एक बीजेपी नेता जीतराम मुंडा की गोली मरकर हत्या कर दी गई है मृतक रांची के ओरमांझी में बीजेपी अनुसूचित जनजाति मोर्चा के जिला अध्यक्ष थे। 

जानकारी के मुताबिक जीतराम मुंडा की जब हत्या हुई तब वे किसी कार्यक्रम से लौट रहे थे तभी, बाइक सवार कुछ गुंडों ने गोलियां बरसानी शुरू कर दी। ताबड़तोड़ फायरिंग करने के बाद अपराधी वहां से फरार हो गए। आनन-फानन में घायल जीतराम मुंडा को मेदांता हॉस्पिटल लाया गया जहाँ डॉक्टरों ने उनसे मृत घोषित कर दिया। खबर मिलने के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गई। स्थानीय पुलिस के साथ ही आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। सीसीटीवी की पड़ताल के साथ ही नाकेबंदी कर चेकिंग शुरू करा दी गई।

 केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के बयान से तो ऐसा लग रहा है की काफी हद तक हत्या की वजह तो प्रशासन भी होती है। उन्होंने बताया कि जीतराम को पहले से हमले की आशंका थी। इससे पहले भी उनपर हमला हुआ था। मुंडा ने कहा, 'जीतराम ने आर्म लाइसेंस के लिए भी आवेदन दिया था, लेकिन प्रशासन ने ना तो उन्हें सुरक्षा उपलब्ध कराई और न ही आर्म्स लाइसेंस दिया। पूर्व सीएम रघुवर दास और सांसद संजय सेठ ने घटना की कड़ी निंदा की है और कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है। 

 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार