सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

It Raid On Pushpraj Jain : पुष्पराज जैन के खिलाफ आईटी को मिले करोडो की फर्जी खरीद-बिक्री के कागजात.....हिरासत में लेकर पूछताछ जारी

आयकर विभाग ने पम्पी जैन और मलिक ग्रुप के कानपुर, कन्नौज, लखनऊ, दिल्ली, मुंबई और हाथरस के 35 परिसरों पर छापेमारी की थी। शनिवार तक कानपुर और लखनऊ सहित 15 परिसरों की जांच पूरी हो गई थी। रविवार को 8 और दफ्तर, गोदाम और कॉरपोरेट ऑफिसों की जांच हो गई। अभी भी 12 जगह छानबीन चल रही है।

Shanti Kumari
  • Jan 3 2022 9:59AM
कन्नौज में रहने वाले समाजवादी इत्र लॉन्च करने वाले सपा एमएलसी पुष्पराज जैन उर्फ पम्पी जैन के घर पर रविवार को तीसरे दिन भी छापामार कार्यवाही चलती रही। इस बीच आयकर विभाग को करीब 10 करोड़ रुपए की फर्जी खरीद-बिक्री के कागजात मिले हैं। यह पेपर्स कोलकाता की बोगस कंपनियों में निवेश के बताए जा रहे हैं। 

समाजवादी इत्र बनाने वाले सपा एमएलसी पुष्पराज जैन उर्फ पम्पी जैन के ठिकानों से आयकर विभाग को तीसरे दिन दस करोड़ रुपये की फर्जी खरीद और दस करोड़ की बोगस इंट्री के दस्तावेज मिले हैं, इनकी जांच की जा रही है। इससे पहले मिडिल ईस्ट से करीब 40 करोड़ रुपये के निवेश के कागजात पाए गए थे। बड़ी संख्या में सीज कागजातों की जांच की जा रही है।

आयकर विभाग ने पम्पी जैन और मलिक ग्रुप के कानपुर, कन्नौज, लखनऊ, दिल्ली, मुंबई और हाथरस के 35 परिसरों पर छापेमारी की थी। शनिवार तक कानपुर और लखनऊ सहित 15 परिसरों की जांच पूरी हो गई थी। रविवार को 8 और दफ्तर, गोदाम और कॉरपोरेट ऑफिसों की जांच हो गई। अभी भी 12 जगह छानबीन चल रही है। 

आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक पम्पी जैन के मुंबई स्थित घर से दो करोड़ रुपये पहले ही मिल गए थे। साथ ही मिडिल ईस्ट से लगभग 40 करोड़ के निवेश के प्रमाण मिले थे। इसके आगे की पड़ताल में खुलासा हुआ कि पम्पी जैन ने कोलकाता की बोगस कंपनियों के जरिए दस करोड़ रुपये की इंट्री ली। इन कंपनियों की पड़ताल में सभी फर्जी पाई गईं। इसके अलावा 10 करोड़ रुपये की फर्जी खरीद-बिक्री के प्रमाण भी मिले हैं।

यह भी पाया गया कि कागजों में कुल कारोबार में आधा मुनाफा और आधी बिक्री दिखाई जा रही थी। इसकी जांच में बिल ही बोगस मिले। कानपुर स्थित पम्पी जैन के बहनोई के दोनों घर सील हैं, अभी इनकी जांच नहीं की गई है। वहीं, मलिक ग्रुप के यहां साढ़े तीन करोड़ रुपये कैश मिलने के साथ तमाम कागजों और रजिस्टरों को सील किया गया है।

वही, उत्तर प्रदेश के कन्नौज में इत्र कारोबारी और समाजवादी पार्टी (सपा) के विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) पुष्पराज जैन उर्फ 'पम्पी' को टैक्स चोरी के मामले में आयकर विभाग ने सोमवार को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। पुष्पराज जैन के कन्नौज स्थित आवास एवं अन्य ठिकानों पर पिछले चार दिनों से छापेमारी चल रही है। सूत्रों के अनुसार आयकर विभाग की टीम ने सोमवार की सुबह पुष्पराज जैन को हिरासत में लिया। इसके बाद उन्हें कानपुर लाया गया है। 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार