सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

धर्मांतरण का धंधेबाज पादरी दिनकरण निकला कालेधन का भी कारोबारी.. सुदर्शन के अभियान पर मुहर लगाते हुए इस पाखंडी पादरी पर इनकम टैक्स विभाग का छापा

जीसस कॉल के नाम से ईसाई मिशनरी चलाता था ये आरोपी पादरी.

Sudarshan News
  • Jan 24 2021 5:18PM

इस सच को दिखाने का साहस सुदर्शन न्यूज़ ने किया था.. न किसी का दबाव और न किसी का प्रभाव काम आया और जो मुहिम हमने प्रमाणों के साथ छेड़ी थी वो आख़िरकार शत प्रतिशत सही साबित होती दिखाई दे रही है. इसका पहला और सुखद असर अब देखने को मिल रहा है.. 

ध्यान देने योग्य है कि आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई हुई है. धर्मांतरण कराने वाला पादरी पर आयकर विभाग का छापा पड़ा है..धर्मांतरण के इस दोषी पादरी के 25 ठिकानों पर हुई  है छापेमारी.. 118 करोड़ रुपये का काला धन किया  गया है जब्त. इस अरोपोई का नाम है पादरी पॉल दिनाकरण है जिस के आवास से 4.7 किलो सोने के जेवर भी जब्त हुई है 

जीसस कॉल के नाम से ईसाई मिशनरी चलाता था ये आरोपी पादरी.  हिन्दुओं का धर्म परिवर्तन कराने के लिए पादरी को विदेशों से मिलता था धन . सुदर्शन न्यूज़ ईसाई धर्मांतरण के खिलाफ लगातार 12 दिनों तक मुहिम चलाया था. ईसाई धर्मांतरण के विदेशी गिरोह और षड्यंत्र का पर्दाफाश सुदर्शन न्यूज़ ने अपने अभियान में किया था.

आंध्र प्रदेश पुलिस ने भी एक बड़े पादरी को पिछले सप्ताह गिरफ्तार की थी, जो धर्मांतरण और हिन्दू हिन्दू देवी देवताओं को लगातर अपमानित कर रह था. मिली जानकारी के अनुसार आयकर विभाग ने कर चोरी का बड़ा खुलासा करते हुए तमिलनाडु के एक ईसाई प्रचारक के 25 ठिकानों पर छापा मारकर 118 करोड़ रुपये का कालाधन पकड़ा है। 

सुदर्शन न्यूज़ की इस खबर से हो रहे असर के बाद जनमानस भी अब जागरूक और सतर्क हुआ है. इस मामले में अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि विभाग की टीमों ने 20 जनवरी को ये छापे मारे इनमें एक विश्वविद्यालय भी शामिल है. आयकर टीमों ने पॉल दिनाकरण के कोयंबटूर स्थित आवास से 4.7 किलो सोने के जेवर जब्त किए हैं।

धर्मांतरण का ये दोषी दिनाकरण जीजस कॉल्स के नाम से एक ईसाई मिशनरी चलाता है जिसमें लोगों का धर्म परिवर्तन कराया जाता है। आयकर अधिकारियों ने दिनाकरण के के ठिकानों से मिशनरी को मिले विदेशी दान पर करीब 118 करोड़ रुपये की कर चोरी पकड़ी है। फिलहाल न्याय और नीति की बातें करने वाले तमाम बुद्दिजीवी इस मामले में चुप है.

देखिये सुदर्शन न्यूज़ के महाभियान का लिंक -

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार