सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

कैसा होगा उत्तराखंड में विधान सभा मानसून सत्र

उत्तराखंड के इतिहास में यह पहला मौका होगा जब विधानसभा अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष समेत करीब 10 विधायक सदन में मौजूद नहीं रहेंगे

Krishna Kumar
  • Sep 21 2020 9:24PM

उत्तराखंड में 23 सितंबर को होने जा रहे ऐतिहासिक मानसून सत्र में पहली बार सड़क से लेकर सदन तक विपक्ष जनता के मुद्दे नहीं उठा पाएगा. उत्तराखंड के इतिहास में यह पहला मौका होगा जब विधानसभा अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष समेत करीब 10 विधायक सदन में मौजूद नहीं रहेंगे. यही नहीं यह पहला मौका है जब मानसून सत्र को 1 दिन का रखा गया है  दरअसल कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण 23 सितंबर को होने जा रहा विधानसभा का मानसून सत्र एक दिन का किया गया है क्योंकि विधान सभा अध्यक्ष के साथ साथ नेता प्रतिपक्ष भी कॅरोना पॉजिटिव है यही वजह है कि इस बार सदन की कार्यवाही प्रश्नकाल विहीन होगी. यानि सदन में जनता से जुड़े मुद्दे उठाने का मौका भी विपक्ष के पास नहीं होगा. हालांकि सत्ता पक्ष नेताओ का कहना है कि विपक्ष को उनकी बात सदन में रखने का पूरा मौका दिया जायेगा।

 विपक्षी दलों के लिए सदन में जनता का मुद्दा उठाने का एक बड़ा मौका होता है इतना ही नहीं सड़क पर आकर सरकार को घेरने का भी एक बड़ा मौका होता है. लेकिन कांग्रेस पार्टी ने कोरोना के चलते एक सप्ताह तक सभी कार्यक्रम रद्द किए हुए हैं. जिसके चलते सड़क पर कांग्रेस अपना विरोध भी दर्ज नहीं करा पाएगी. हालांकि कांग्रेस नेताओ का कहना है कि  कांग्रेस की कोशिश होगी कि उन्हें जो भी वक्त मिलेगा वो उस वक्त का इस्तेमाल जनता के मुद्दों को सदन उठाने में करेंगे । सदन में सरकार को घेरने के लिए हर तरह के मुद्दे उठाए जाएंगे क्योंकि कांगेस के पास सरकार को घेरने के मुद्दों की कमी नही है

 सरकार 1 दिन का सदन रखकर और उसमें भी प्रश्नकाल न रखकर पहले ही कांग्रेस से विरोध का मौका छीन चुकी है. उधर कोविड 19 के प्रकोप के चलते सड़क पर भी कांग्रेस इस मौके को नहीं भुना पाएगी। ऐसे में बिना कांग्रेस के विरोध के इस बार की सदन की कार्यवाही कैसी रहती है ये देखने वाली बात होगी बहरहाल जनता तो सरकार के साथ-साथ विपक्ष से भी उम्मीद लगाए बैठी है अब विपक्ष जनता की उम्मीदों पर कितना खरा उतरता है यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा ।


सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार