सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

रूस यूक्रेन युद्ध को लेकर भारत के रुख पर सवाल उठाने वालों को विदेश मंत्री ने दिया करारा जवाब

उन्होंने पश्चिम को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अगर भारत का ये रुख आपकी उम्मीदों के मुताबिक नहीं है तो ये आपकी समस्या है. विदेश मंत्री ने कहा कि रूस यूक्रेन मुद्दे पर भारत ने काफी गंभीर रुख अपनाया है.

Geeta
  • Nov 26 2022 7:45PM

रूस यूक्रेन युद्ध को लेकर भारत के रुख पर सवाल उठाने वालों को विदेश मंत्री ने सीधा जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि पश्चिम को भारत के इसी रवैये के साथ जीना होगा. विदेश मंत्री ने कहा कि भारत भी अफगानिस्तान और पाकिस्तान के मुद्दों पर मतभेदों के बावजूद पश्चिम के साथ काम करता रहा है.

उन्होंने पश्चिम को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अगर भारत का ये रुख आपकी उम्मीदों के मुताबिक नहीं है तो ये आपकी समस्या है. विदेश मंत्री ने कहा कि रूस यूक्रेन मुद्दे पर भारत ने काफी गंभीर रुख अपनाया है.


विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि पिछले 9 महीनों में भारत के रुख का सम्मान किया गया, और अपने क्रेडिबल पॉजिशन के साथ भारत भी रूस यूक्रेन युद्ध खत्म करने का समर्थक है, और दूसरों के साथ काम करना चाहता है.
 
विदेश मंत्री जयशंकर ने क्वाड के बारे में पूछे जाने पर कहा कि क्वाड को कभी भी इस उद्देश्य से नहीं बनाया गया था कि किसी मुद्दे पर सभी युनाइटेड रहें. उन्होंने यह भी साफ किया कि, अगर क्वाड देशों की भारत से कुछ एक्सपेक्टेशन थीं भी तो भारत की भी कुछ एक्सपेक्टेशंस हैं.

भारत भी आए दिन पड़ोसी के साथ आतंक की समस्या झेलता है, इस मुद्दे पर वे सभी एक क्यों नहीं होते? विदेश मंत्री ने यह भी पूछा कि आतंकवाद पर क्वाड की एकताई कहां है, जो कि बहुत पुरानी समस्या है. क्वाड इंडो-पैसिफिक की समस्याओं से निपटने और सभी के एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करने के उद्देश्य से बनाया गया था. विदेश मंत्री ने पश्चिम को भारत का रुख स्पष्ट करते हुए कहा कि “आपने यूक्रेन को चुना. हम पाकिस्तान और अफगानिस्तान को चुन सकते थे और पूछ सकते थे कि वे भारत के रुख का समर्थन क्यों नहीं कर रहे.”

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

ताजा समाचार