सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

इजिप्ट का जो मोहम्मद वाहिदान सोशल मीडिया पर अभियान चला रहा था कोरोना को अमेरिकी अफवाह बता कर वही मरा कोरोना से

इजिप्ट में एक बड़ा वर्ग कर रहा था उसकी बातों पर यकीन..

Sudarshan News
  • May 16 2020 9:37PM

जिस प्रकार मिस्र में सोशल मीडिया से उठी क्रांति ने सरकार तक को बदल डाला ठीक उसी प्रकार एक नया अभियान मिस्र में सोशल मीडिया पर चलाया गया था जिसमें दुनियाभर में मौत का कारण बन रहे कोरोनावायरस सीधी सीधी अमेरिका की अफवाह घोषित करा दिया गया था। इस पूरे अभियान का जनक मोहम्मद वाहिद आन नाम का एक व्यक्ति था जो बहुत बड़े समाज को यह समझाने में कामयाब हो गया था कि कोरोनावायरस सच्चाई नहीं बल्कि अमेरिका द्वारा उड़ाई गई एक अफवाह है।

लेकिन असल में उसका उल्टा हुआ और जिस व्यक्ति ने यह अभियान चलाया था वही व्यक्ति आखिरकार कोरोना से मर गया और अब इजिप्ट में छाया है एक बड़ा सन्नाटा और हर कोई कोरोनावायरस को बचाने का कर रहा है प्रयास।

मिस्र में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत, व्यक्ति ने वायरस को बताया था अमेरिकी अफवाह।दु निया कोरोना वायरस के कहर से लड़ रही है। कोरोना वायरस का कहर फैलता ही जा रहा है। तो वहीं मिस्र में कोरोना वायरस से एक ऐसे व्यक्ति की मौत हुई जिसने कोरोना वायरस को अमेरिकी अफवाह कहा था। अरब न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक मुहमम्द वाहिदान ने कुछ महीने पहले अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो संदेश में कोरोना वायरस को झूठा कहा था। उन्होंने वीडियो में कहा था कि अमेरिका ने चीन की अर्थवयवस्था खराब और नष्ट करने के लिए वायरस की अफवाह उड़ाई है। इसके अलावा मुहमम्द वाहिदान ने मिस्र के लोगो से अपनी वीडियो में कहा कि वह देश में समान्य स्थिति बनाए रखे और एक जगह पर जमा होने से बचें।

उन्होंने अपनी वीडियो में आगे कहा कि हमें कोरोना वायरस के खिलाफ सावधानीपूर्वक कदम उठाने चाहिए।मुहम्मद वाहिदान बाद में बीमार पड़ गए फिर उनका टेस्ट हुआ। टेस्ट होने के बाद वायरस का पता चला और फिर उन्हें मिस्र के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।  अस्पताल में भर्ती होने के दूसरे दिन उनकी हालत खराब हो गई और एक वीडियो पोस्ट कर उन्होंने अपनी गलती स्वीकार करी। उन्होंने सबसे विनती करी और कहा कि मुझे घर पर रहने के लिए कहा गया था लेकिन मैने ध्यान नहीं दिया और मै एक दिखावटी ज़िन्दगी खरीद रहा था। इसलिए आप सभी से भी निवेदन है कि कृपया घर पर ही रहे और इस वायरस को हलके में ना ले। ये वायरस शरीर के अंगो को मारता है और नष्ट कर देता है।

उन्‍होंने आगे कहा था, 'भूख आपको नहीं मारेगी। अपने जीवन को जोखिम में न डालें। मिस्र में वायरस फैल रहा है। दुर्भाग्य से मेरे भाई-बहन भी मेरी वजह से संक्रमित हो गए हैं। कृपया मेरे लिए जल्द से जल्द वायरस से उबरने के लिए प्रार्थना करें। ' हालां‍कि मुहम्मद वाहिदान अपने पोस्ट किए गए आखिरी वीडियो में मुश्किल से बोल पा रहे थे। वहीं उनके एक दोस्त ने कहा कि वह एक खिलाड़ी थे और अच्छी सेहत के मालिक थे। उन्होंने आगे कहा कि मुहम्मद वाहिदान के पिता और भाई का अस्पताल में इलाज चल रहा है और उनकी हालत खतरे से बाहर है, लेकिन उन्हें अभी तक मुहम्मद वाहिदान की मौत के बारे में सूचित नहीं किया गया है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
1 Comments

Darmme andha hogaya muslim pagal

  • Guest
  • May 17 2020 11:03:00:727AM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार