सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

Farm Bill Repealed: कृषि कानूनों पर PM की घोषणा पर क्या बोले हरियाणा CM मनाेहर लाल खट्टर.. देखे यहां

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने बातचीत में कहा, "अब किसानों को चिंता नहीं करनी चाहिए... अगर पीएम ने घोषणा की है कि तीनों कृषि कानूनों को वापस ले लिया जाएगा, तो वास्तव में ऐसा होगा।

Geeta
  • Nov 19 2021 4:50PM

आज यानी शुक्रवार काे गुरु नानक देव जी की जयंती के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने के निर्णय की घोषणा की। जिस पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर की प्रतिक्रिया सामने आई है.

उन्होंने कहा कि अगर पीएम की बात पर अविश्वास है तो ये दुख की बात है। हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने बातचीत में कहा, "अब किसानों को चिंता नहीं करनी चाहिए... अगर पीएम ने घोषणा की है कि तीनों कृषि कानूनों को वापस ले लिया जाएगा, तो वास्तव में ऐसा होगा। यहां तक कि विपक्ष के नेता हुड्डा जी ने भी लोगों से आस्था रखने को कहा है... इसमें भरोसा न करने जैसी कोई बात नहीं है। अगर फिर भी अविश्वास है तो दुख की बात है।"

बता दें कि इन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान पिछले साल से दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इन कानूनों को वापस लेने को लेकर विपक्षी दल संदेह जता रहे हैं, खुद किसान नेता राकेश टिकैत भी संसद से बिल वापस न लेने तक आंदोलन जारी रखने की बात कह रहे हैं। राकेश टिकैत ने कहा था कि अगर पीएम मोदी ने जो कहा है वो सरकार सच में करने जा रही है तो वे इस फैसले का स्वागत करते हैं। इसके अलावा भी सरकार के साथ हमारे कई मसले हैं, जब तक इन कानूनों को संसद से वापस नहीं ले लिया जाता। तब तक हम डटे रहेंगे।

वहीं, समाजवादी पार्टी ने अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने इस फैसले पर किसानों को बधाई भी दी लेकिन ये भी कहा कि इनका(मोदी सरकार) भरोसा नहीं है ये चुनाव के बाद फिर कानून लाएंगे। इसलिए जनता को इनसे सतर्क रहना चाहिए।


सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार