सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

शिक्षा मंत्री डॉ निशंक ने बिहार और छत्तीसगढ़ में किया केंदीय विद्यालय का उद्घाटन

केंद्रीय मंत्री ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्रीय विद्यालय, बेतिया (बिहार) और केंद्रीय विद्यालय, कोरबा (छत्तीसगढ़) का उद्घाटन किया। इस मौके पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन के अनुरूप जो नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति हम लेकर आए हैं, उससे स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में एक बहुत बड़ा परिवर्तन आएगा। यह नीति भविष्य के भारत को ध्यान में रखकर तैयार की गई है।

Alok Jha
  • Jan 21 2021 10:40PM
केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने गुरुवार को बिहार और छत्तीसगढ़ को दो नए केंद्रीय विद्यालयों की सौगात देते हुए कहा कि नई शिक्षा नीति में केवल किताबी ज्ञान के बजाये व्यावहारिक ज्ञान पर भी जोर दिया गया है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के लिए कक्षा 6 से ही वोकेशनल ट्रेनिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी, जिसमें इंटर्नशिप भी जुड़ी होगी। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को भी स्कूली स्तर से ही सिखाया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्रीय विद्यालय, बेतिया (बिहार) और केंद्रीय विद्यालय, कोरबा (छत्तीसगढ़) का उद्घाटन किया। इस मौके पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन के अनुरूप जो नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति हम लेकर आए हैं, उससे स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में एक बहुत बड़ा परिवर्तन आएगा। यह नीति भविष्य के भारत को ध्यान में रखकर तैयार की गई है। इसमें भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को भी बढ़ावा दिया जाएगा। यह नीति आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने में सक्षम है। निशंक ने कहा, "देश में कुल 1245 केंद्रीय विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं और पिछले 6 सालों में 151 नए केंद्रीय विद्यालय देश में खोले गए हैं जहां देश के 13,88,899 बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा प्रदान की जा रही है, उनका भविष्य गढ़ा जा रहा है। यह बहुत बड़ा कार्य एक अकेले संगठन द्वारा किया जा रहा है। मैं केंद्रीय विद्यालय संगठन के समस्त शिक्षकों, कार्मिकों और अधिकारियों को हार्दिक बधाई देता हूं कि वे देश की भावी पीढ़ी को तैयार करने में अपना योगदान दे रहे हैं।

वर्ष 2003 में बेतिया में शुरू किया गया केंद्रीय विद्यालय अभी तक अस्थायी रूप से चमड़ा परिष्करण इकाई में संचालित हो रहा था। इसके नए भवन के लिए राज्य सरकार ने लगभग 10 एकड़ भूमि निःशुल्क उपलब्ध करवाई और केंद्रीय विद्यालय संगठन ने 13.016 करोड़ की लागत से इसके नए भवन का निर्माण करवाया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि फ़िलहाल बिहार में कुल 53 केंद्रीय विद्यालय संचालित हैं, जिसमें 04 केंद्रीय विद्यालय दो शिफ्ट में संचालित किए जाते हैं। केंद्रीय विद्यालय बेतिया, पश्चिम चंपारण में एक मात्र नया विद्यालय है जहां पर अभी कक्षा 1 से 10 में 489 विद्यार्थी पढ़ते हैं। जब यह विद्यालय कक्षा 1 से 12 तक पूर्ण रूप से दो सेक्शन में संचालित हो जाएगा, तब इससे जिले के लगभग 1000 विद्यार्थी लाभान्वित होंगे।

छत्तीसगढ़ के कोरबा में केंद्रीय विद्यालय क्र 4 के लिए भी छत्तीसगढ़ सरकार ने 10 एकड़ भूमि उपलब्ध करवाई थी और जिस पर केंद्रीय विद्यालय संगठन ने 15.86 करोड़ की लागत से सभी आधुनिक सुविधाओं से युक्त एक भव्य भवन का निर्माण कराया है। डॉ निशंक ने बताया कि 1245 केंद्रीय विद्यालयों में से 953 केंद्रीय विद्यालय अपने स्वयं के भवनों से संचालित किए जा रहे हैं। शेष विद्यालयों के भवन निर्माण की प्रक्रिया भी बहुत तेजी के साथ चल रही है और जल्द ही ये विद्यालय भी अपने भवनों से संचालित किए जाएंगे।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार