सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

इटावा में एक साथ दिखाई दिया यादव कुनबा..लेकिन ?????

दूसरे से दूरी ही बनाए रहे चाचा-भतीजा समारोह के लिए बनाए गए पंडाल में चाचा-भतीजा एक दूसरे से दूरी ही बनाए रहे। पंडाल के एक तरफ शिवपाल सिंह यादव बैठे, जबकि दूसरी तरफ अखिलेश यादव बैठे रहे। कार्यक्रम में सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव, बिहार के राजद नेता तेजस्वी यादव व तेज प्रताप यादव भी पहुंचे। शिवपाल सिंह यादव अपनी पत्नी सरला यादव के साथ पहुंचे थे।

क्षितिज दीक्षित
  • Mar 9 2021 10:15AM
उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के सैफई में आज फिर मुलायम कुनबा एक साथ दिखाई दिया। मुलायम कुनबा एक साथ राजनैतिक मंच पर नही बल्कि परिवार में एक वैवाहिक समारोह में सभी एक साथ दिखा है।सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव को इस समारोह मे शामिल होना था लेकिन किसी कारण से वो इस समारोह मे शामिल नही हो सके। वैसे वो लखनऊ से हवाई जहाज के जरिये चले थे लेकिन वो सैफई उतरने के बजाय दिल्ली चले गये। दरअसल पूर्व सांसद तेजप्रताप सिंह यादव की बहन दीपाली की रिंग सेरीमनी का आयोजन सैफई में रखा गया । जिसमें मुलायम कुनबे के अधिकाधिक सदस्यों के अलावा लालू परिवार के कइयो प्रमुख राजनैतिक सदस्य मौजूद रहे ।मुलायम कुनबा परिवार की सबसे लाडली बेटी की रिंग सेरीमनी के मौके पर एक साथ दिखा। मुलायम परिवार के राजनीतिक और गैर राजनीतिक सदस्य एक साथ दिखाई दिए। सपा से नाता तोड़कर प्रसपा का गठन करने के बाद से चाचा शिवपाल और भतीजे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बीच तल्खी अभी भी बरकरार हैं। हालांकि पारिवारिक सम्मान करने से पूर्व मुख्यमंत्री कतई नहीं पीछे हटते हैं, ऐसा ही नजारा रविवार को सैफई में परिवारिक मांगलिक कार्यक्रम में नजर आया। अखिलेश ने चाचा शिवपाल के पांव छुए और आशीर्वाद लिया परिवार के पूर्व सांसद तेज प्रताप सिंह यादव की बहन शादी तय होने पर गोद भराई रस्म के कार्यक्रम में आए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का सामना चाचा शिवपाल से हुआ तो उन्होंने झट से पांव छूकर आशीर्वाद लिया, लेकिन, फिर तुरंत ही दूरियां भी बना लीं और कोई वार्ता नहीं हुई। इसमें सपा अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव भी पहुंचे। अखिलेश यादव का चाचा शिवपाल यादव से आमना सामना हुआ। सामने आते ही अखिलेश ने चाचा के पांव छुए और आशीर्वाद लिया। ..लेकिन एक दूसरे से दूरी ही बनाए रहे चाचा-भतीजा समारोह के लिए बनाए गए पंडाल में चाचा-भतीजा एक दूसरे से दूरी ही बनाए रहे। पंडाल के एक तरफ शिवपाल सिंह यादव बैठे, जबकि दूसरी तरफ अखिलेश यादव बैठे रहे। कार्यक्रम में सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव, बिहार के राजद नेता तेजस्वी यादव व तेज प्रताप यादव भी पहुंचे। शिवपाल सिंह यादव अपनी पत्नी सरला यादव के साथ पहुंचे थे।पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव के पिता अभयराम सिंह यादव ने अश्वनी यादव को तिलक लगाया। राजनीतिक मतभेदों को मिटाकर एक साथ दिखाई दिया पूरा परिवार बिहार के राजद नेता तेजस्वी यादव व उनका भाई तेज प्रताप सिंह यादव सपा के बहनोई हैं। मुलायम सिंह यादव के भतीजे और मैनपुरी के पूर्व सांसद तेजप्रताप सिंह यादव की इकलौती बहन की रिंग सेरेमनी कार्यक्रम में एक बार फिर से राजनीतिक मतभेदों को मिटाकर पूरा परिवार एक साथ दिखाई दिया। इस आयोजन में सीमित संख्या में लोगों को बुलाया गया था लेकिन इसके बाद भी वहां पर काफी संख्या में लोग पहुंच गये थे। सीमित संख्या में रही लोगों की मौजूदगी मैनपुरी के पूर्व सांसद तेजप्रताप की बहन दीपाली की शादी जसराना इलाके के नगला फरीदा निवासी अश्वनी यादव के साथ तय हुई है। वह चंडीगढ़ स्थित सेंट्रल यूनीवर्सिटी में एसोसियेट प्रोफेसर पद पर कार्यरत हैं। इस आयोजन में मुलायम सिंह यादव के परिवार के अधिकांश सदस्यों के अलावा लालू यादव परिवार के कई प्रमुख राजनीतिक सदस्य मौजूद रहे। इस रिंग सेरेमनी का यह पूरा आयोजन बहुत ही सीमित रखा गया था। ये लोग रहे मौजूद 2019 के संसदीय चुनाव के बाद यह पहला मौका है जब मुलायम परिवार के अधिकाधिक सदस्य किसी वैवाहिक समारोह में एक साथ शामिल हुए हों। मुलायम परिवार से समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, डिंपल, प्रो. रामगोपाल यादव , उनके बेटे पूर्व सांसद अक्षय यादव, धर्मेंद्र यादव, शिवपाल सिंह यादव पत्नी सरला यादव व बेटे आदित्य यादव,,ज़राजपाल यादव, प्रेमलता यादव, अभिषेक यादव, अभयराम सिंह यादव शामिल हुए तो वही अन्य राजनेता प्रमुख तौर पर मौजूद रहे ।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार