सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

फर्जी वाहन पास के जरिये सचिवालय की सुरक्षा में सेंध

फर्जी वाहन पास से सचिवालय की सुरक्षा में सेंध लगाने का सिलसिला अब भी बदस्तूर जारी....

रजत मिश्र, उत्तर प्रदेश , Twitter: rajatkmishra1
  • Oct 9 2020 4:11PM

उत्तर प्रदेश के सचिवालय की सुरक्षा में एक बार फिर सेंध लगी है। विकास दुबे के खजांची जय वाजपेयी के साथ ही टेंडर घोटाले में गिरफ्त में आये चार पत्रकारों के फर्जी पास की मदद से सचिवालय में घुसने की घटना के बाद शुक्रवार को फिर बड़ा मामला सामने आया है। आज दो घंटे में दो लोगों ने गाड़ी पर फर्जी पास के साथ घुसने का प्रयास किया। इनको सुरक्षाकर्मियों ने रोकने के साथ पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

लखनऊ में सचिवालय में सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ ही डिप्टी सीएम तथा मंत्रियों के साथ शीर्ष अधिकारियों का आवागमन होता रहता है। ऐसे में फर्जी पास की मदद से यहां घुसने वाले बड़ा खतरा बन सकते हैं। यह न सिर्फ गोपनीय फाइलों के लिए खतरा बनते हैं, बल्कि मंत्रियों के स्टाफ की मिलीभगत से बड़ा कारनामा भी कर देते हैं।

विधानसभा सचिवालय में शुक्रवार को सुबह करीब 11 बजे अभय प्रताप सिंह नाम के युवक ने फर्जी वाहन पास से घुसने की कोशिश की। वहां पर गेट नंबर सात पर तैनात सुरक्षाकर्मी अभय कुमार पाण्डेय ने उसे रोक लिया। जिस टोयटा फॉर्च्यूनर गाड़ी से उसने प्रवेश किया, वह दिल्ली का नंबर (डीएल10 सी जी 2190) है।

इसके बाद कूटरचित सचिवालय पास से सचिवालय में प्रवेश करने की कोशिश करने वाले इस युवक को मुख्य सुरक्षा अधिकारी जिलाजीत चौधरी ने रोक लिया है। उससे पूछताछ जारी है। इसके एक घंटा बाद ही गेट नम्बर सात से फर्जी वाहन पास से सचिवालय में प्रवेश करते हुए एक और व्यक्ति पकड़ा गया। वह टोयोटा की इनोवा पर फर्जी वाहन पास लगाकर प्रवेश कर रहा था। उससे भी पूछताछ जारी है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार