सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

Milkha Singh Death: नहीं रहे फ्लाइंग सिख के नाम से मशहूर मिल्खा सिंह, 91 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

महान धावक मिल्खा सिंह के निधन के बाद देशभर में शोक की लहर, प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, गृहमंत्री से लेकर खिलाड़ी, बॉलीवुड से जुड़े लोग व आमजन दे रहे मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि

Abhay Pratap
  • Jun 19 2021 9:18AM

कोरोना संक्रमित होने के बाद करीब एक महीने से जूझ रहे पूर्व ओलंपियन पद्मश्री मिल्खा सिंह का 91 साल की उम्र में शुक्रवार देर रात पीजीआई चंडीगढ़ में निधन हो गया. फ्लाइंग सिख के नाम से दुनिया भर मे मशहूर मिल्खा सिंह 19 मई को कोरोना संक्रमित मिले थे. इसके बाद फोर्टिस मोहाली में भर्ती रहे. बाद में परिजनों के आग्रह पर अस्पताल में छुट्टी लेकर सेक्टर-8 स्थित आवास पर ही इलाज करा रहे थे.


बीते तीन जून को हालत बिगड़ने पर उन्हें पीजीआई में भर्ती कराया गया था. बीते बुधवार को उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी लेकिन संक्रमण के कारण वह बेहद कमजोर हो गए थे. शुक्रवार दोपहर अचानक उनकी तबीयत गंभीर हो गई. बुखार के साथ उनका ऑक्सीजन स्तर नीचे गिरने लगा. पीजीआई के डॉक्टरों की सीनियर टीम उन पर नजर बनाए हुए थी, लेकिन देर रात उनकी हालत बिगड़ गई और रात 11.40 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली. उनके निधन के साथ भारतीय खेल के एक युग का अंत हो गया है. इस दुखद सूचना से देश और दुनिया के खेल प्रेमियों में शोक की लहर फैल गई है. 

बता दें कि मिल्खा सिंह के साथ उनकी पत्नी निर्मल कौर भी कोरोना संक्रमित हो गईं थीं. हालत गंभीर होने पर उन्हें मोहाली के निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया था. उनकी भी हालत कई दिनों तक स्थिर बनी हुई थी, लेकिन 13 जून की शाम को उनका निधन हो गया. मिल्खा सिंह और उनकी पत्नी के बीच काफी जुड़ाव था. पत्नी की मौत के बाद परिजनों को लगने लगा था कि वे ज्यादा दिन तक जी नहीं पाएंगे, इसलिए पत्नी के निधन की खबर मिल्खा सिंह से छिपाकर रखी गई थी.

परिजनों ने बताया कि दो दिन से मिल्खा सिंह पत्नी निम्मी से बात करने की जिद कर रहे थे. उन्होंने यह भी कहा था कि उनके सपने में निम्मी आ रही हैं और वे इस दुनिया चलीं गईं हैं. बता दें कि निर्मल कौर भारतीय वॉलीबाल टीम की पूर्व कप्तान थीं. साथ ही वह चंडीगढ़ के खेल निदेशक के पद पर भी रही थीं. बता दें कि मिल्खा सिंह के परिवार में उनकी तीन बेटियां व एक बेटा जीव मिल्खा सिंह हैं। जीव अंतरराष्ट्रीय स्तर के गोल्फर हैं। 

महान धावक मिल्खा सिंह के निधन की खबर से सोशल मीडिया पर शोक की लहर दौड़ गई है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत कई केंद्रीय मंत्री, राज्यपाल, खिलाड़ी, अभिनेता से लेकर हर वर्ग के लोगों ने मिल्खा सिंह को श्रद्धाजंलि दी है. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मिल्खा सिंह के निधन पर शोक जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि हमने एक बेहद महान खिलाड़ी को खो दिया. देश के नागरिकों के दिलों में मिल्खा सिंह बसते थे, उन्होंने देश के लाखों लोगों को अपनी व्यक्तित्व से प्रेरित किया है. उनके निधन से मैं बहुत आहत हुआ हूं. पीएम ने लिखा कि उन्होंने कुछ ही दिनों पहले मिल्खा सिंह से बात की थी, लेकिन उन्हें नहीं पता था कि वे आखिरी बार उनसे बात कर रहे हैं.

केंद्रीय खेल मंत्री किरन रिजिजू ने ट्विटर पर मिल्खा सिंह का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि वादा करते हैं कि वह मिल्खा सिंह की आखिरी इच्छा को पूरा करेंगे. वीडियो में मिल्खा सिंह ये कहते हुए दिख रहे हैं कि उनकी आखिरी इच्छा है कि जैसे उन्होंने एथलेटिक्स में देश के लिए गोल्ड जीता, वैसे ही कोई देश का नौजवान देश के लिए रोम ओलंपिक में गोल्ड जीते और भारत का झंडा लहराए.

सुदर्शन परिवार भारत के महान धावक मिल्खा सिंह के निधन पर उन्हें शतत श्रद्धांजलि समर्पित करता है.

अलविदा फ्लाइंग सिख... अलविदा मिल्खा सिंह

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार