सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

दिल्ली में आया कोरोना का हैरान करने वाला मामला

दिल्ली के आरएमल अस्पताल में मां के गर्भ से पेट में पल रहे नवजात बच्चे को कोरोना संक्रमण होने का देश का पहला मामला सामने आया है। आरएमल अस्पताल के डॉक्टरों ने यह दावा किया है।

Alok Jha
  • Jul 11 2020 3:13PM
दिल्ली के आरएमल अस्पताल में मां के गर्भ से पेट में पल रहे नवजात बच्चे को कोरोना संक्रमण होने का देश का पहला मामला सामने आया है। आरएमल अस्पताल के डॉक्टरों ने यह दावा किया है।

आरएमल के नवजात रोग विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर राहुल चौधरी का कहना है कि जिस समय बच्चे की डिलवरी हुई थी उस समय मां कोरोना को हराकर ठीक हो चुकी थी लेकिन जब बच्चे की डिलवरी हुई और छह घण्टे बाद उसका सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजा गया तो बच्चा कोरोना संक्रमित निकला। डॉक्टर राहुल का दावा है कि कोरोना नेगेटिव मां के गर्भ से कोरोना संक्रमित बच्चे का जन्म होना यह देश का पहला मामला है। उन्होंने बताया कि चीन में कुछ शोध में यह बात सामने आई थी कि गर्भनाल के जरिये भी कोरोना वायरस मां से बच्चे तक पहुंच सकता है हालांकि इस शोध में ठोस सबूत नहीं थे।
दिल्ली के नांगलोई की रहने वाली 25 वर्षीय रुचि गर्भवती थी और पिछले महीने उन्हें आरएमल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 11 जून को उनकी कोरोना की जांच कराई गई तो वे संक्रमित निकली। इसके बाद इनके पति को भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। इसके बाद 25 जून को कोरोना की दोबारा जांच कराई तो रुचि की रिपोर्ट फिर से पॉजिटिव आयी। डॉक्टरों ने 7 जुलाई को तीसरी बार आरटीपीसीआर जांच कराई तो वह रिपोर्ट निगेटिव आयी। यानी रुचि कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुकी थी। डॉक्टर राहुल चौधरी ने बताया कि रिपोर्ट निगेटिव आने के अगले दिन मां की डिलवरी कराई गई और बच्चे की छह घण्टे बाद ही जांच कराई तो उसे कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। अस्पताल की माइक्रोबायोलॉजी विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर कीर्ति कहती हैं कि बच्चे में हाई वायरल लोड के साथ कोरोना वायरस मौजूद है। अभी बच्चा अस्पताल में भर्ती है।
डॉक्टर राहुल चौधरी के अनुसार "कोरोना को हराने के बाद बच्चे को जन्म देने वाली मां का बच्चा कोरोना संक्रमित आना बताता है कि मां के गर्भनाल से भी कोरोना संक्रमण शिशु तक पहुंच सकता है। हालांकि इसकी संभावना बेहद कम होती है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें