सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

केरल में कोरोना का कहर, 482 लोगों ने गंवाई जान... पूर्ण भारत में 585 मौतें

कोरोनो वायरस बीमारी से जुड़ी 585 मौतें दर्ज कीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों ने यह जानकारी दी। इनमें से केरल में सबसे ज्यादा 482 मौतें हुईं।

Abhinya
  • Oct 27 2021 12:52PM

भारत ने कोरोना से लड़ने के लिए 100 करोड़ से ज्यादा टिक्ककरण पुरे कर लिए है। कोरोना महामारी का कहर देश में कम होते हुए दिखाई पड़ रहा है। स्वास्थ प्रशासन लगातार सभी देशवासियों को कोरोना से बचकर रहने की सलाह दे रहा है कि कोरोना के खिलाफ अपनी सुरक्षा अपने ही हाथ है। समय समय से हाथ धोने और सैनेटाइज करने से लेकर बहार जाने से पहले मास्क लगाने की राय दे रहे है। 

बता दें पिछले 24 घंटों में कोरोना के 13,451 मामले सामने आए हैं, जिसके बाद देश में कुल कोरोना मामलों की संख्या 3,42,15,653 पहुंच गई है। इसके अलावा देश में एक्टिव मामलों की संख्या में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की जानकारी के मुताबिक कोरोना महामारी के आंकड़ों में भारत ने पिछले 24 घंटों में कोरोनो वायरस बीमारी से जुड़ी 585 मौतें दर्ज की। साथ ही सबसे ज्यादा मौतें केरल में होते हुई नजर आईं। बता दें केवल केरल में ही 482 लोगों ने अपनी जान कोरोना वायरस से झुझते हुए गंवाई दी। 

साथ ही आपको बता दें इस समय देश की रिकवरी रेट भी मार्च 2020 के बाद से सबसे ज्यादा है, वर्तमान में यह 98.19 प्रतिशत है। राहत की बात यह है कि देश में हर रोज जितने लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। उससे ज्यादा लोग कोरोना से ठीक हो रहे हैं। पिछले 24 घंटों में 14,021 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं। देश मे कोरोना से ठीक होने वाले कुल लोगों की संख्या 3,35,97,339 पहुंच गई है। देश में एक्टिव केसों की संख्या 1,62,661 है, जो पिछले 242 दिनों में सबसे कम है।

इसके अलावा देश में कोरोना मामलों की पहचान करने के लिए लगातार टेस्टिंग की जा रही है। अब तक कुल 60.32 करोड़ टेस्ट किए जा चुके हैं। लोगों को वायरस से सुरक्षा प्रदान करने के लिए लगातार टीकाकरण अभियान भी बड़े स्तर पर जारी है ।जिसके तहत अब तक कुल 103.53 करोड़ वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं।

भारत सरकार इस साल के आखिर तक पूरी पात्र आबादी को टीका लगाना चाहती है। इसी सिलसिले में मनसुख मांडविया आज सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बातचीत करने वाले हैं।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार