सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

28 फरवरी तक बढ़ाई कोरोना पाबंदी....ओमिक्रॉन की कहर के बीच केंद्र का राज्‍यों को सख्‍त निर्देश

गृह मंत्रालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने जो गाइडलाइन दिसंबर में जारी की थी उसे अब 28 फरवरी तक के लिए बढ़ाया जा रहा है.

Prem Kashyap Mishra
  • Jan 27 2022 8:39PM

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने आज एक बार फिर सभी राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कोरोना गाइडलाइन का सख्‍ती से पालन कराने को कहा है. गृह मंत्रालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने जो गाइडलाइन दिसंबर में जारी की थी उसे अब 28 फरवरी तक के लिए बढ़ाया जा रहा है.

उन्‍होंने कहा कि कोरोना के डेल्‍टा वेरिएंट के साथ ही अब ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं, यही कारण है कि कोरोना संक्रमण के मामलों में बड़ा उछाल देखने को मिल रहा है. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सभी राज्‍यों में प्रतिबंधों का सख्‍ती से पालन करना जरूरी हो गया है. उन्‍होंने कहा कोरोना महामारी के दौरान ओमिक्रॉन वेरिएंट का खतरा तेजी से बढ़ रहा है.

देश में कोरोना के एक्टिव केस 22 लाख से अधिक हो गए हैं. हालांकि कोरोना से संक्रमित मरीज तेजी से ठीक भी हो रहे हैं और अस्‍पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्‍या पहले की तुलना में काफी कम है. इसके बावजूद उन्‍होंने चिंता जताते हुए कहा कि 34 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 407 जिले में अभी भी कोरोना पॉजिटिविटी रेट 10% से अधिक दर्ज किया गया है. कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए हमें और सावधानी और सतर्कता बरतने की जरूरत है.

उन्‍होंने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच हम सभी को पांच स्‍तरीय रणनीति पर काम करने की जरूरत है. उन्‍होंने कहा टेस्‍ट, ट्रैक, ट्रीट, टीकाकारण और कोरोना गाइडलाइन का पालन ही हमें कोरोना महामारी की जंग जीतने में मदद करेगा.

न्‍होंने राज्‍यों से कहा कि उन्‍हें कोविड उपयुक्त व्यवहार के मानदंडों का सख्ती से पालन करने की आवश्‍यकता है. उन्‍होंने कहा कि सार्वजनिक स्‍थानों और सभाओं में फेस मास्क पहनना और सुरक्षित सामाजिक दूरी बनाए रखना बेहद जरूरी है. इसके अलावा, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सही सूचना का प्रसार करने की जरूरत है. उन्‍होंने कहा कि इस दौरान गलत सूचना पर लगाम कसने और नियमित रूप से मीडिया ब्रीफिंग की भी जरूरत है.

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार