सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कांग्रेस की “भारत जोड़ो यात्रा” आज होगी आरंभ, 2024 के चुनावों की हो रही तैयारी ​

आपको बता दें कि, राहुल गांधी आज तमिलनाडु पहुंचे। जिसके बाद राहुल ने श्रीपेरुमबुदुर जा कर अपने पिता राजीव गांधी की समाधि स्थल के सामने बैठकर प्रार्थना की। इस दौरान उनके साथ कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार भी मौजूद रहे।

Aarti Dixit
  • Sep 7 2022 11:57AM

देश में कई राज्यों में अपनी लुटिया डूबोने के बाद आज से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत कर रहे हैं। भारत जोड़ो यात्रा तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू की जाएगी। वहीं इसके बाद यह यात्रा कन्याकुमारी से होते हुए कश्मीर तक जाएगी।

आपको बता दें कि, राहुल गांधी आज तमिलनाडु पहुंचे। जिसके बाद राहुल ने श्रीपेरुमबुदुर जा कर अपने पिता राजीव गांधी की समाधि स्थल के सामने बैठकर प्रार्थना की। इस दौरान उनके साथ कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार भी मौजूद रहे।

मालूम हो कि राहुल गांधी श्रीपेरुमबुदुर पहली बार पहुंचे हैं, वहीं इसके बाद वह कामराज मेमोरियल और दूसरे जगहों पर भी शाम को दौरा करेंगे। शाम 4.30 बजे स्टालिन उन्हें तिरंगा सौंपेंगे। जिसके बाद 5.00 बजे एक जनसभा को संबोधित करने के साथ यात्रा की औपचारिक शुरूआत की जाएगी।

दरअसल, भारत जोड़ो यात्रा के लिए खुले मैदान में ग्राम बनाया गया है। वहीं यात्रा जब अगले स्पॉट पर जाने के बाद आगे किसी मैदान में यही सेट-अप लगाया जाएगा। कहीं भी फाइव स्टार होटल में या होटल में कोई नहीं रुकेगा। क्योंकि यह लम्बी यात्रा है जिस कारण बहुत गर्मी या नमी बहुत ज़्यादा होगी, इसलिए सिर्फ AC का इस्तेमाल किया जा रहा है।

आपको बता दें कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्राहै लेकिन कांग्रेस के चल रहे बुरे दिनों की ये एक छवी है। वहीं इस खराब छवी को सुधारने के लिए राहुल गांधी पार्टी में नया जोश भरने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन यह कोशिश भी नकाम होती ही नजर आ रही है। राहुल की गांधी की ये यात्रा लगभग 150 दिन चलेगी।

दरअसल, कांग्रेस का कहना है कि, भारत जोड़ो यात्राका उदेश्य देश में प्रेम और भाईचारे को बढाना है। जबकि वहीं राजनितीक गलियों में झांक कर देखा जाए तो कांग्रेस इस यात्रा को 2024 के चुनावों के लिए कर रही है। कांग्रेस का पीएम मोदी को हराने के लिए यह मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है। लेकिन पीएम मोदी को मात देना कांग्रेस के लिए आसान बात नहीं है। जबकि कांग्रेस खुद जानती है कि देश में उसकी स्थिती इस वक्त क्या है।

इस यात्रा के शुभारंभ से पहले राहुल गांधी कन्याकुमारी में विवेकानंद रॉक मेमोरियल, तिरुवल्लुवर स्टैच्यू और कामराज मेमोरियल भी जाएंगे। शाम करीब 4 बजे महात्मा गांधी मंडपम में कार्यक्रम होना है।

इसके बाद भारत जोड़ो यात्रा को आगे बढ़ाया जाएगा। भारत जोड़ो यात्रा में हर दिन 25 किलोमीटर की पदयात्रा होगी। लेकिन यहां सवाल यह बनता है कि क्या इस यात्रा का लाभ कांग्रेस को 2024 के चुनावों में होगा?  

 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार