सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

संसार का पहला देश जो ऑनलाइन बेच रहा है मुसलमानों को.. उसका खौफ़ इतना कि हर जुबान पर है ताला

चीन में हो रही है खुलेआम उइघुर मुसलमानो की ऑनलाइन बिक्री और पाकिस्तान मूर्ती बना बैठा है।

karan sharma
  • Apr 20 2021 3:56PM
ब्रिटैन के एक अख़बार की कंपनी "स्काई न्यूज़ " ने गुप्त तरीके से चीन के एक ऐसे काले काम का पर्दाफाश किया है जिसने पूरी दुनिआ को सक्ते में दाल दिया हैऔर अब पूरा विश्व चीन का बहिष्कार कर कड़ी निंदा भी कर रहा है।

दरअसल चीन में से उइघुर मुसलमानो को ख़तम करने के लिए चीन के सबसे बड़े सर्च इंजन "baidu" पर अज्ञात तरीके से ग़ुलामो की तरह से बेचने के लिए इश्तेहार लगाए जा रहे है। इस तरह की मुसलमानो की बिक्री चीन में इस वक़्त पुरे ज़ोरो शोरो से चालू है।  बता दे की बेचे जाने वाले उईघुर मुसलमानो का कोई भाव नहीं लगाया जाता बल्कि उनकी नीलामी करी जाती है और सबसे ऊंची बोली लगाने वाले को बेच दिया जाता है।  स्काई न्यूज़ ने अपनी खुफ़िआ जांच में यह भी पता लगाया की बेचे जाने वाले उईघुर मुसलमानो को अमाननीय जगहों में भेद बकरी जैसे रखा जाता है।  हर बार इंसानो का स्टॉक ख़तम हो जाने पर 50 - 100 नए उइघुर मुसलमानो को फॉर सेल वाले टैग के साथ baidu पर दाल दिया जाता था। जब स्काई न्यूज़ के हाथ इतनी सवेदनशील खबर लगी तब चीनी अधिकारियो ने पत्रकारों से गंभीर पूछताछ भी करी परन्तु स्काई न्यूज़ के पत्रकार चीन की काली करतूत की तस्वीरें पहुंचाने में सक्षम रहे।

आपको बता दे की उइघुर मुस्लमान एक ऐसा समुदाय है जो ज़ुबान से तुर्की बोलता है और चीन जैसे कई देशो में पनाह लिए हुए है इनको ख़तम करने के लिए चीन की नयी निति चीन की क्रूरता को दर्शाती है। शिनजिआंग में जगह जगह  लगे हुए है जिसमे ये बताया गया है की कैसे बोली लगाकर उइघुर मुसलमानो को  खरीदा जा सकता है।  इस धंधे का गढ़ है चीन का शहर शिनजियांग जहा पर से 2019 में ऑस्ट्रेलिया स्ट्रेटेजिक पालिसी इंस्टिट्यूट  रिपोर्ट में यह पता लगाया की लगभग 80 हज़ार उइघुर मुसलमानो को ट्रको में लाद कर शिनजिआंग के बहार भेज दिया।  इन जगहों पर ये लोग अमाननीय तरीको में काम करेंगे जैसे अपने घर न जाना , अपने परिवार से न मिलना , फैक्ट्री से बहार न जाना।  चीन के खिलाफ ऐसे ठोस सबूत के साथ जब संयुक्त राष्ट्र ने चीन को इस बारे में कहा तो चीन ने अपनी काली हरकतों से साफ़ मुँह कर लिया और कहा की ये सब झूठ है और फैक्ट्री के अंदर मुसलमानो को ट्रेनिंग दी जाती है।  

चीन काफी चालाक रणनीतियों का इस्तेमाल करता है जैसे अपने देश में खुदका अलग सर्च इंजन चलना जिसपर सरकार की हमेशा निगाह बनी रहती है और अलग सर्च इंजन का इस्तेमाल करने की वजह से चीन की ऐसे घिनौनी हरकतों पर पूरी दुनिआ के सामने नहीं आ पाती।  चीन ने हमेशा से क्रूरता से मुसलमानो का एवं चमड़ी से काले लोगो का विरोध किया है। इस समय पाकिस्तान के प्रधान मंत्री की चुप्पी इस बात का प्रमाण है की चीन ने पाकिस्तान जैसे देशो के मुँह में पैसे ठूस दिए है जिसके कारण वे अपने ही धरम के लोगो को बचाने के लिए आवाज़ नहीं उठा पाए।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

3 Comments

भारत के भी किसी न्यूज़ चैनल ने नही बताया

  • Guest
  • Apr 21 2021 7:12:07:330AM

बहुत सही इसी तरह भारत में करना चाहिए

  • Guest
  • Apr 20 2021 5:01:04:457PM

यदि ऐसा हो रहा है तो यही नीति पूरे विश्व को अपनानी चाहिए

  • Guest
  • Apr 20 2021 4:02:56:283PM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार